राशन बांटने के दौरान विवाद के मामले में पार्षद पति के खिलाफ मुकदमा दर्ज

हरिद्वार। लाॅकडाउन के दौरान शासन की ओर से राजीव नगर कॉलोनी गोविंदपुरी में राशन बांटने को लेकर हुए विवाद के मामले में सैक्टर मजिस्टेªट की शिकायत पर ज्वालापुर पुलिस ने पार्षद पति प्रीत कमल के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। सेक्ट्रर मजिस्टेªट की ओर से दी गई तहरीर के आधार पर सरकारी काम में बाधा पहुंचाना, लॉकडाउन का उल्लंघन और आपदा अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज हुआ है। बतातें चले कि गत दिवस सोमवार को गोविंदपुरी से लगी राजीव कॉलोनी में सेक्टर मजिस्ट्रेट और सचल दल रुड़की नारसन के राज्य कर अधिकारी रविंद्र कुमार बसेड़ा राशन वितरण करने पहुंचे थे। आरोप है कि पार्षद आशा सारस्वत के पति प्रीत कमल ने एक कर्मचारी और मेयर प्रतिनिधि से मारपीट कर दी। टीम राशन किट बांटने की तैयारी कर रही थी कि पार्षद पति और भाजपा नेता प्रीत कमल ने हंगामा शुरू कर दिया। पुलिस ने मामले को शांत कराया दिया था। अगले दिन रविंद्र कुमार बसेड़ा ने पार्षद पति प्रीत कमल पर सरकारी काम में बांधा पहुंचाने का आरोप लगाया है। बता दें कि प्रीत कमल की पत्नी आशा सारस्वत गोविंदपुरी वार्ड से पार्षद हैं। बीते कुछ माह पहले ही प्रीत कमल ने कांग्रेस छोड़ भाजपा का दामन थामा था। प्रीत कमल ने एक मेयर प्रतिनिधि पर मारपीट का आरोप लगाया था। कोतवाली प्रभारी योगेश सिंह देव ने बताया कि जांच के बाद मामले में गिरफ्तारी की जाएगी।