स्थिति ठीक रही तो कुंभ में मेला स्पेशल समेत 50 ट्रेनें के संचालन की संभावना - गंगल


 पत्रकारों से वार्ता के दौरान कहा रेलवे प्रशासन का पूरा फोकस भीड़ नियंत्रण पर 


हरिद्वार। उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक आशुतोष गंगल ने कहा कि कुंभ मेले को लेकर रेलवे की तैयारियों जोरों पर है। कहा कि राज्य सरकार से समन्वय स्थापित कर श्रद्धालुओं को बेहतर सुविधाएं मुहैया कराने को हरसंभव प्रयास किए जाएंगे। दो दिवसीय दौरे पर आये उत्तर रेलवे के महाप्रबधंक ने शनिवार को स्टेशन परिसर में पत्रकारों से वार्ता करते हुए कहा कि हरिद्वार-लक्सर रेलखंड के दोहरीकरण, टिबड़ी और ज्वालापुर में अंडरपास समेत भीड़ नियंत्रण को तमाम उपाय किए जा रहे हैं। शारीरिक दूरी मानकों का पालन कराते हुए रेलवे कितनी ट्रेनों का संचालन कर पाएगा यह बताना फिलहाल संभव नहीं है। सबकुछ ठीक रहा तो कुंभ में मेला स्पेशल समेत 50 ट्रेनें संचालित की जा सकती है। कहा कि देहरादून-गोरखपुर राप्तीगंगा एक्सप्रेस को नियमित करने के भी प्रयास किए जाएंगे। रेलवे बोर्ड से बातचीत की जाएगी। महाप्रबंधक गंगल ने बताया कि कुंभ के तहत हरिद्वार, ज्वालापुर और आसपास के स्टेशनों पर चल रहे निर्माण कार्यों को दिसंबर तक पूरा कराने का लक्ष्य है। रेलवे प्रशासन का पूरा फोकस भीड़ नियंत्रण पर है। इसके लिए स्टेशन के झंडा ग्राउंड में होल्डिग एरिया विकसित की जा रही है। सप्ताह में दो दिन संचालित देहरादून-गोरखपुर राप्ती गंगा एक्सप्रेस और एक दिन देहरादून- मुजफ्फरपुर के बीच संचालित ट्रेन में सामान्य दिनों में भीड़भाड़ को चलते इसे सातों दिन चलाने संबंधी सवाल के जवाब में महाप्रबंधक ने बताया कि इस मामले को रेलवे बोर्ड में रखा जाएगा। प्रेस वार्ता में मंडल रेल प्रबंधक तरुण प्रकाश, वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक रेखा शर्मा, आरपीएफ के आइजी डॉ एसएन पांडे समेत जोन और मंडल के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे।