बैरागी कैंप क्षेत्र में कुंभ मेला कार्य शुरू नहीं होने पर जतायी नाराजगी

हरिद्वार। शंकराचार्य आश्रम के परमाध्यक्ष व निरंजनी अखाड़े के वरिष्ठ महामण्डलेश्वर स्वामी सोमेश्वरानन्द गिरी महाराज ने बैरागी कैंप क्षेत्र में कुंभ मेला कार्य शुरू नहीं होने पर नाराजगी प्रकट की है। उन्होंने शासन प्रशासन से अपील करते हुए कहा कि बैरागी कैंप में कुंभ मेले से जुड़े से सभी कार्य तत्काल प्रारम्भ किए जाएं। जिससे कुंभ मेले के दौरान आने वाले संतो व श्रद्धालु भक्तों को किसी भी प्रकार की असुविधा का सामना ना करना पड़े और अखाड़े व आश्रम अपनी तैयारियां समय से पूर्ण कर सकें। उन्होंने कहा कि कुंभ मेला विश्व का सबसे बड़ा धार्मिक आयोजन है। जो विश्व पटल पर भारतीय संस्कृति की पताका को एक अनोखे रूप में संजोता है। कुंभ की दिव्यता व भव्यता से प्रभावित होकर विदेशी लोग भी भारतीय संस्कृति को अपना रहे हैं। नासिक, उज्जैन व प्रयागराज की तर्ज पर ही कुंभ मेले की व्यवस्थाएं लागू की जानी चाहिए। जिससे कुंभ मेला सकुशल संपन्न हो सके। उन्होंने कहा कि समय से कुंभ मेले के कार्य पूर्ण होंगे तो मेले में किसी भी प्रकार की कोई घटना नहीं होगी। शासन प्रशासन कुंभ मेला भूमि को चिन्हित कर जल्द ही संत महापुरूषों को आवंटित करे। जिससे समय रहते बाहर से आने वाले बैरागी व सन्यासी संत भी अपनी तैयारियां पूर्ण कर सकें। उन्होंने कहा कि संत महापुरूषों व प्रशासन के आपसी समन्वय से ही कुंभ मेला सकुशल संपन्न होगा।