चैक बाजार में सड़को पर सीवर का गंदा पानी भरने से गुस्साए व्यापारियों ने किया प्रदर्शन

हरिद्वार। उपनगरी ज्वालापुर के चैक बाजार की सडकों पर सीवर का गंदा पानी भरने से नाराज व्यापारियों ने सरकार, नगर निगम, जल संस्थान व इलाके के पार्षदों के खिलाफ जमकर नारेबाजी कर प्रदर्शन किया। व्यापारियों ने भाजपा के जनप्रतिनिधियों, नगर निगम व जलसंस्थान के कर्मचारियों व अधिकारियों पर लापरवाही बरतने का आरोप भी लगाया। चैक बाजार व्यापार मंडल के महामंत्री राजीव तुम्बडिया ने कहा कि उपनगरी ज्वालापुर का चैक बाजार सबसे पुराना बाजार है। प्रतिदिन हजारों की संख्या मे ग्राहक बाजार मे खरीदारी करने आते है। त्यौहारों के सीजन मे चैक बाजार मे भारी भीड रहती है। सोमवार को भैयादूज का पर्व होने के चलते व्यापारियों को अच्छा कारोबार होने की उम्मीद थी। लेकिन सवेरे ही सीवर उफनने की वजह से बाजार की सडकों पर एक संे डेढ फुट गंदा पानी भर गया। दुकानों में पानी सीवर का गंदा पानी भरने से व्यापारियों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। दुकानदारी पूरी तरह चैपट हो गयी। अधिकारियों व नेताओं को सूचना दिए जाने के बाद भी घंटों तक कोई मौके पर नहीं पहुंचा। तुम्बड़िया ने कहा कि इलाके के दोनों भाजपा पार्षद भी लंबे समय से चली आ रही सीवर उफनने की समस्या की उपेक्षा कर रहे हैं। राजीव तुम्बडिया ने सरकार पर भी ज्वालापुर की उपेक्षा का आरोप लगाते हुए कहा कि बेहद कम क्षमता वाली था पुरानी हो चुकी सीवर जगह जगह से क्षतिग्रस्त हो चुकी है। कुंभ निधि से होने वाले विकास कार्यो का लाभ भी चैक बाजार के व्यापारियों व नागरिकों को नही मिल पाया है। कुंभ निधि से सीवर उफने की समस्या को दुर किया जा सकता था। लेकिन भाजपा पार्षद जनता के हितों को लेकर सजग नही है। त्यौहारों के मौके पर बाजार में पानी भरने से व्यपारियों को नुकसान उठाना पड़ा। प्रदर्शन करने वालों में हरीश कुमार, माॅडल, राजू पाहवा, जिम्मी, हरिओम, विशाल, अमित, राहुल, निकुंज खेवड़िया, अशरफ, निशु, सागर, विनोद भारद्वाज, नरेश आदि सहित कई व्यापारी शामिल रहे।