जूना अखाड़ा पहुचने पर संतो का भव्य स्वागत

हरिद्वार। श्रीज्ञानेश्वर मठ के पीठाधीश्वर व जूना अखाड़े के महामण्डलेश्वर स्वामी शंकरानंद सरस्वती महाराज तथा महामण्डलेश्वर स्वामी आत्मानंद सरस्वती महाराज का बुधवार जूना अखाड़ा पहुचने पर अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय महामंत्री व जूना अखाड़े के अन्र्तराष्ट्रीय सरंक्षक श्रीमहंत हरिगिरि महाराज तथा नागा सन्यासियों ने भव्य स्वागत किया। महामण्डलेश्वर स्वामी शंकरानंद सरस्वती तथा म.म.आत्मानंद सरस्वती ने अधिष्ठात्री देवी मायादेवी तथा श्रीआंनद भैरव मन्दिर में कुम्भ मेला सकुशल सम्पन्न होने तथा विश्व को वैश्विक महामारी कोरोना से मुक्त कराने के लिए विशेष पूजा अर्चना की तथा विशेष अनुष्ठान में भाग लिया। महामण्डलेश्वर स्वामी शंकरानंद सरस्वती ने अपने अनुयायियों दुर्गेश गर्ग, पण्डित वीरेन्द्र पाण्डेय आदि किे साथ कुम्भ मेले के लिए अखाड़े में चल रहे निर्माण कार्यो का निरीक्षण किया तथा कई महत्वपूर्ण सुझाव दिए। गौरतलब है कि महामण्डलेश्वर स्वामी शंकरानंद सरस्वती महाराज द्वारा मुम्बई के मांटूंगा, डोंबीवली,कल्याण में कई सेवा प्रकल्प संचालित किए जा रहे है। जिनके माध्यम से अन्नक्षेत्र, शिक्षा, चिकित्सा व जनसेवा के कार्य निर्धन, निर्बल व सर्वहार वर्ग की सेवा की जा रही है। इस अवसर पर अखाड़े के सचिव श्रीमहंत महेशपुरी, कोठारी लालभारती, पुजारी परमानंद गिरि, कारोबारी महंत महादेवानंद गिरि, थानापति महंत नीलकंठ गिरि, महंत सहजानंद सरस्वती, महंत रणधीर गिरि, महंत विवेकपुरी आदि मौजूद रहे।