विभिन्न मांगो को लेकर माध्यमिक शिक्षक संघ ने मुख्य शिक्षाधिकारी को सौपा ज्ञापन

हरिद्वार। उत्तराखंड माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रतिनिधिमंडल ने जिलाध्यक्ष राजेश सैनी के नेतृत्व में मुख्य शिक्षा अधिकारी डॉ. आनंद भारद्वाज को ज्ञापन दिया। इसमें अशासकीय शिक्षकों की लंबित समस्याएं को 21 नवंबर तक हल न करने पर 23 नवंबर को उनके कार्यालय पर प्रदर्शन की चेतावनी दी। मांग पत्र में 29 अक्टूबर को लॉकडाउन के दौरान भगवानपुर ब्लॉक के कॉलेजों में मुख्य शिक्षा अधिकारी की ओर से किए निरीक्षण के दौरान 44 शिक्षकों की अनुपस्थिति लगाने पर कोई कार्रवाई न करने, अशासकीय शिक्षकों के अगस्त, सितंबर, अक्टूबर का वेतन दीपावली से पूर्व जारी करने के लिए शासन को पत्र लिखने व प्रवक्ता वेतनक्रम में 50 प्रतिशत पदों पर एलटी से प्रमोशन करने के लिए प्रबंधकों व प्रधानाचार्य को कड़े निर्देश देने की मांग की। इसके अलावा भी शिक्षकों की विभिन्न मांगों को रखा गया है। इसके अलावा सीएमडी इंटर कॉलेज चुड़ियाला के प्रबंध संचालक भिक्कम सिंह की ओर से शिक्षकों के प्रति लगातार अपमानजनक व्यवहार करने पर उन्हें अविलंब यहां से हटाने, आरएमपीवी इंटर कॉलेज गुरुकुल नारसन के प्रधानाचार्य महावीर सिंह के हस्ताक्षर प्रमाणित करने, बीएसएम इंटर कॉलेज के शिक्षक मामचंद शर्मा के आठ माह के रुके वेतन का भुगतान कराने, श्री मारवाड़ कन्या पाठशाला इंटर कॉलेज रुड़की की शिक्षिकाओं का जून से रुके 6 माह के वेतन का भुगतान कराने, केएलडीएवी इंटर कॉलेज रुड़की के शिक्षक अरविद कुमार के प्रोन्नत वेतनमान प्रकरण का निस्तारण तथा फेरूपुर इंटर कॉलेज के शिक्षक रघुवीर सिंह के चयन वेतनमान प्रकरण का निस्तारण करने के साथ-साथ पिछली दीवाली का बोनस का भुगतान नहीं होने वाले विद्यालय को बोनस भुगतान कराए जाने की बात रखी। प्रतिनिधिमंडल में संघ के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. अनिल शर्मा, प्रदेश उपाध्यक्ष प्रदीप त्यागी, जिला मंत्री जितेंद्र पुंडीर, अविनाश शर्मा, अशोक आर्य,अरविद सैनी आदि मौजूद रहे।