न्याय की गुहार लगा रही महिला दो बच्चों संग पानी की टंकी पर चढ़ी,प्रशासन में हड़कम्प

 

हरिद्वार। जमीन के मामलों में पिछले कई महीनों से न्याय दिलाने की गुहार लगा रही महिला ने बुधवार को दो बच्चों सहित पानी की टंकी पर चढ़कर आत्महत्या करने की घोषणा करते ही प्रशासन में हड़कंप मच गया। ज्वालापुर क्षेत्र में एक महिला अपने दो बच्चों के साथ पानी की टंकी पर चढ़ गई। महिला मांग पूरी न होने की वजह से बेहद नाराज और आक्रोशित थी और उसने ये कदम उठा लिया। इतना ही नहीं उसने नीचे कूदने की चेतावनी भी दी। पुलिस और स्थानीय निवासी उसे समझाने में लगे रहे। पुलिस और नायाब तहसीलदार के समझाने के बाद बामुश्किल महिला नीचे उतरी फिर आश्वसन मिलने पर महिला दो घंटे बाद टंकी से नीचे उतर आई। ज्वालापुर के सीतापुर की एक महिला ने तहसील के एक पटवारी और कुछ भूमाफिया पर अपनी जमीन कब्जाने का आरोप लगाते हुए जिलाधिकारी से शिकायत की थी। महिला ने कुछ दिन पहले प्रेस कांफ्रेंस कर इच्छा मृत्यु की अनुमति भी मांगी थी। महिला ज्वालापुर के पांडेवाला में पानी की टंकी पर चढ़ गई। महिला के साथ दो बच्चे भी थे। पुलिस और स्थानीय निवासी महिला को समझा-बुझाकर मनाने का प्रयास करते रहे, लेकिन महिला नीचे कूदने की चेतावनी देने लगी। महिला ने कहा, वह अपनी जमीन वापस लेने के लिए कई साल से सरकारी दफ्तरों के चक्कर काट रही है। जिलाधिकारी से लेकर मुख्यमंत्री तक शिकायत करने के बावजूद उसे सिर्फ आश्वासन ही मिले। अगर उसकी जमीन वापस नहीं दिलाई गई और जमीन हड़पने के दोषी सरकारी कर्मचारियों को भूमाफिया पर कार्रवाई नहीं हुई तो वह बच्चे समय टंकी से नीचे कूदकर जान दे देगी। ज्वालापुर कोतवाल प्रवीण सिंह कोश्यारी ने बताया कि मामले की सूचना एसडीएम सदर को दे दी गई। प्रशासन के टीम ने मौके पर पहुंचकर महिला से बातचीत की। आश्वासन मिलने पर करीब दो घंटे बाद महिला बच्चों के साथ नीचे उतर आई।