रेलवे के बंद पडे गेट को खोलने की मांग को लेकर महानगर व्यापार मण्डल ने किया प्रदर्शन

हरिद्वार। महानगर व्यापार मंडल के व्यापारियोें ने मंडल के जिलाध्यक्ष सुनील सेठी के नेतृत्व में रेलवे स्टेशन के बंद पड़े गेट को खोलने की मांग को लेकर रेलवे स्टेशन पर विरोध जताते हुए रेलवे अधीक्षक से गेटों को खोलने की मांग की है। महानगर व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष सुनील सेठी ने कहा कि कई महीनों से रेलवे द्वारा नए गेट तैयार किये जा रहे है जो पिछले महीने से बनकर भी तैयार है लेकिन रेलवे विभाग द्वारा उन गेटों को नहीं खोला जा रहा जिसकी वजह से व्यापारियों को नुकसान उठाना पड़ रहा है। गेटों के न खुलने से आसपास, आमने सामने के व्यपारियो का काम चैपट पड़ा है। एक तरफ कोरोना के चलते व्यापार प्रभावित है तो वहीं दूसरी तरफ रेलवे विभाग की हठधर्मिता के कारण व्यापारियों को डबल मार झेलनी पड़ रही है। कोरोना के नाम पर हरिद्वार के व्यापारियों का उत्पीड़न किया जा रहा है। महानगर अध्यक्ष जितेंद्र चैरसिया ने कहा कि जब रेलवे स्टेशन के नये प्रवेश द्वार बन चुके है तो उसे किस कारण नहीं खोला जा रहा। लाखांे रुपये से तैयार प्रवेश द्वार न खोलने से व्यापारियों को आर्थिक संकट से जूझना पड़ रहा है एक तो कोरोना की वजह से पहले ही यात्रियों को रोका जा रहा है और अगर कोई यात्री आ भी रहा है तो छोटे से द्वार से ही सीधा निकासी से निकल जा रहा है जिससे व्यापारी बर्बाद हो रहा है। जल्द से जल्द रेलवे विभाग को नये गेट खोलने चाहिए। विरोध जताने वालो में मुख्य रूप महानगर महामंत्री नाथीराम सैनी, हन्नी दमीर, जिला उपाध्यक्ष उमेश चैधरी, महानगर उपाध्यक्ष सुनील मनोचा, मुकेश अग्रवाल, गौतम हल्दर, गौरव कुमार, धर्मपाल सिंह, सचिन शर्मा, मनीष कश्यप, सोनू चैधरी, सन्नी दामिर, हर्ष कुमार, गौरव गौतम, राजकुमार प्रिंस, रिंकल सिंह, रिंकेश, राजेश सुखीजा, संजय भट्ट, मयंक गर्ग, राजेश भाटिया, बनारसी दास, मनोज शर्मा, तरुण मल्होत्रा, संजय शर्मा, रवि जोशी, हैप्पी, गणेश राणा, दीपक कुमार, संजय तनेजा, गौरव भाटिया, पंकज माटा, अमित गर्ग, राहुल शर्मा, शीशपाल, धर्मेंद्र, अमित कुमार उपस्थित रहे।