संतों ने किया श्री पंचायती अखाड़ा नया उदासीन की पेशवाई का स्वागत

 

हरिद्वार। श्री पंचायती अखाड़ा नया उदासीन कि पेशवाई जगजीतपुर पहुंचने पर अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमान नरेंद्र गिरी महाराज, निरंजन पीठाधीश्वर स्वामी कैलाशानंद गिरी महाराज, ब्रह्मऋषि कुमार स्वामी, आनंद पीठाधीश्वर आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी बालकानंद गिरी, मां मनसा देवी मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष श्रीमहंत रविंद्रपुरी महाराज ने फूल माला पहनाकर स्वागत किया। इस दौरान निरंजन पीठाधीश्वर आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी कैलाशानंद गिरी महाराज ने कहा कि सनातन संस्कृति का सबसे बड़ा पर्व कुंभ मेला विश्व की धरोहर है। जो पूरी दुनिया को धर्म का संदेश प्रदान करता है। कुंभ मेले की दिव्यता एवं भव्यता सभी को अपनी ओर आकर्षित करती है। आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी बालकानंद गिरी महाराज ने कहा कि कुंभ के दौरान निकलने वाली पेशवाई मुख्य आकर्षण का केंद्र होती है। अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमहंत नरेंद्र गिरि महाराज ने कहा कि कुंभ मेला भारतीय संस्कृति एवं सनातन परंपराओं को दर्शाता है। मां मनसा मंदिर देवी ट्रस्ट के अध्यक्ष श्रीमहंत रविंद्र पुरी महाराज ने कहा कि पतित पावनी मां गंगा के आशीर्वाद से कुंभ मेला निर्विघ्न संपन्न होगा। कोविड गाइडलाइन का पालन अवश्य करें। स्वागत करने वालों में श्रीमहंत रामरतन गिरी, श्रीमहंत दिनेश गिरी, श्रीमहंत ओंकार गिरी, महंत केशवपुरी, श्रीमहंत राधेगिरी, महंत शंकरानंद सरस्वती, महंत मनीष भारती आदि संतजन शामिल रहे।