पुलिया निर्माण नहीं होने पर जगजीतपुर के लोगों ने जतायी नाराजगी

 हरिद्वार। जगजीतपुर स्थित मांगेराम की छोटी पुलिया क्षतिग्रस्त होने से ग्रामीणों में आक्रोश पनप रहा है। ग्रामीणों ने पुलिया निर्माण में धांधली का आरोप लगाते हुए क्षेत्रीय पार्षद, मेयर और विधायक के साथ पीडब्ल्यूडी पर निशाना साधा है। बताते चले कि ग्रामीणों की मांग पर जगजीतपुर में नाले पर पुलिया का निर्माण कराया गया था। लेकिन पुलिया निर्माण के कुछ दिनों बाद ही पुलिया के टूटने से ग्रामीणों में खासी नाराजगी है। जिसमें स्थानीय लोगों ने मेयर, पार्षद, विधायक, पीडब्ल्यूडी से सवाल उठाते हुए कहा कि पुलिया रोजाना थोड़ी थोड़ी टूट रही है। लेकिन कोई देखने वाला नहीं है। पुलिया से होकर बड़े वाहनों की आवाजाही हो रही है। इससे पुलिया के टूटने का खतरा बना हुआ है। इस खतरे को देखते हुए बीच में बड़े वाहनों को रोकने के लिए स्थानीय लोगों द्वारा छोटा खंबा भी  लगाया गया है। पुलिया कभी भी अचानक टूट सकती है। लोगों का कहना है कि यदि पुलिया टूटती है तो जिम्मेदारी किसकी होगी। लोगों द्वारा मानव अधिकार संगठन के चेयरमैन एवं उत्तराखंड प्रदेश किसान कांग्रेस कमेटी के प्रदेश महासचिव कार्तिक कुमार चेयरमैन को अवगत कराते हुए मौके पर बुलाया गया। स्थानीय लोगो ने बताया कि कई बार अधिकारी, मेयर, पार्षद, इस पुलिया को देखने आ चुके हैं। पुलिया निर्माण के लिए कई बार नापतौल भी हो चुकी है। लेकिन आज तक कुछ नहीं हुआ। कार्तिक कुमार चेयरमैन ने बताया कि उन्होंने मेयर पति अशोक शर्मा से बात की है। अशोक शर्मा ने बताया कि कई बार जिला अधिकारी, पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों को पुलिया निर्माण के लिए पत्र भेजे गए हैं। कार्तिक कुमार चेयरमैन ने कहा कि हम लोग जनता के सेवक हैं। जनता की सेवा करना हमारा दायित्व है। जल्द से जल्द पुलिया निर्माण कराया जाएगा। सुभाष वर्मा ने कहा कि विभिन्न अधिकारियों, जन प्रतिनिधियों, स्थानीय पार्षद  से पुलिया निर्माण के लिए लगातार मांग की जा रही है। पुलिया कभी टूटने की अवस्था में है। लेकिन आज तक ना तो पुलिया का निर्माण हुआ और सड़क का निर्माण भी अधूरा है। जिससे स्थानीय लोग बेहद परेशान है। रामपाल सहित कई लोगों ने कहा कि पुलिया टूटने पर दुर्घटना कोई शिकार हो। उससे पहले ही जल्द से जल्द इस कार्य को पूरा कराया जाए। विरोध जताने वालों में सुभाष वर्मा, मगन वर्मा, सदाशिव प्रसाद श्रीवास्तव, शुभम, रामपाल, पाल साहब, दयाचंद, सुमित कुमार, सरोज, पप्पू चैधरी आदि शामिल रहे।


Comments