कोरोना के दृष्टिगत कोई भी लापरवाही नहीं बरती जायेगी-जिलाधिकारी

 

हरिद्वार। जिलाधिकारी हरिद्वार ने कोविड 19 की साप्ताहिक मीडिया ब्रीफिंग सीसीआर सभागार में की। ब्रीफिंग में उपस्थित पत्रकार जनों के सवालों के जवाब भी दिये। डीएम ने कहा कि हरिद्वार जनपद कोविड 19 पर सर्वाधिक साप्ताहिक ब्रीफिंग करने वाला जनपद है।  लगातार कोविड की स्थिति पर मीडिया ब्रीफिंग की जा रही है। कोरोना केस में जिले में कुछ कमी तो दर्ज की गयी है, लेकिन जिला प्रशासन आगामी कुम्भ के दृष्टिगत हरिद्वार में कोविड 19 को गंभीरता से ले रहा है। कोरोना के दृष्टिगत कोई भी लापरवाही नहीं बरती जायेगी। जिला प्रशाासन व्यवस्थाओं को सृदढ़ बनाकर कार्य कर रहा है। वर्तमान में 22 लाख की आबादी पर 5 लाख व्यक्तियों के टेस्ट प्रशासन द्वारा कराये गये हैं। स्नान पर्वों पर सैम्पलिंग करायी गयी है जो आगे आने वाले स्नानों पर और अधिक संख्या में करायी जायेगी। कुम्भ मेला नोटिफिकेशन न होने तक सभी मेला पर्वो, आयोजनों पर वर्तमान में जिला प्रशासन से जारी एसओपी का पालन अनिवार्य होगा। टेस्टिंग और सैम्पलिंग लगातार जारी रहेगी। हमारे समस्त स्वास्थ्य उपकरणों व मानव संसाधनों को भी बढ़ाया गया है। मुख्य स्नानों पर निजि स्वास्थ्य संस्थानों के भी 80 प्रतिशत स्वास्थ्य संसाधनों को भी आरक्षित कर लिया गया है। उनके सभी विशेषज्ञों केा जिला प्रशासन के बुलाये जाने पर उपलब्ध रहने के आदेश दिये हैं। इण्डियन मेडिकल एसोसिएशन ने भी निजी चिकित्सा संस्थानों के संसाधनों, व सुविधाओं को देने में स्वेच्छा जतायी है। एक निजी हाॅस्पिटल में प्राइवेट टेस्टिंग लैब भी स्थापित कर ली गयी है और एक प्राइवेट मोबाइल लैब भी उपलब्ध हो गयी है। आगामी स्नान पर्वो पर पीआरडी सहित अन्य जवानों व विभिन्न वाॅलेंटियर्स को पहले से अधिकक संख्या में तैनात किया जायेगा।  इस दौरान पतंजलि के प्रतिनिधियों की ओर से स्व निर्मित मास्क भी जिलाधिकारी को उपलब्ध कराये गये।