जिलाधिकारी से की किताबों,स्टेशनरी की दुकानों को खोलने की अनुमति देने की मांग

हरिद्वार। बुक सेलर व स्टेशनरी एसोसिएशन के सदस्यों के प्रतिनिधिमंडल ने जिला अधिकरी से किताबों व स्टेशनरी की दुकानें खोलने की छूट दिए जाने की मांग की है। जिला अधिकारी को दिए प्रार्थना पत्र में एसोसिएशन के पदाधिकारियों व सदस्यों ने आग्रह किया है कि लाॅकडाउन के चलते जिस तरह फैक्ट्रियां, ट्रांसपोर्टेशन के साथ विद्यालय भी बंद है। जिसके कारण बच्चों की शिक्षा प्रभावित हो रही है। सीबीएसई  ने भी कुछ गाइडलाइंस जारी की है। जिसके अनुसार विद्यालयों द्वारा बच्चों को ऑनलाइन टास्क व वर्कशीट भेजने का सुझाव दिया है। ताकि बच्चों की पढ़ाई प्रभावित ना हो। कई विद्यालयों ने इन निर्देशों का पालन करना भी शुरू कर दिया है तथा बच्चों को वर्कशीट व अलग-अलग टास्क  ऑनलाइन दिए जा रहे हैं। लेकिन अभिभावकों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। अभिभावक ऑनलाइन मैटेरियल को समझने में असमर्थ दिखाई दे रहे हैं तथा पुस्तकों व लेखन सामग्री के लिए परेशान हो रहे हैं। पुस्तक विक्रेताओं ने आग्रह किया है उन्हें भी हिमाचल प्रदेश की तर्ज पर लॉकडाउन में अपनी दुकानें खोलने के लिए कुछ छूट दी जाए। ताकि अभिभावक पुस्तकें तथा अन्य लेखन सामग्री प्राप्त कर सकें और बच्चों की शिक्षा प्रभावित न हो। मांग करने वालों में एसोसिएशन के सेक्रेटरी संजय मेहता, कपिल कुमार, अवधेश भार्गव, रजत भार्गव, लोकेश मेहता, संजीव भार्गव, सरजू, हरीश, ओमप्रकाश, मनोहर लाल व दीपक पांडे शामिल रहे।