नगर निगम ने तैयार किया सैंपल कलेक्शन संेटर,जांच में मिलेगी मदद

हरिद्वार। दुनिया के 170 से ज्यादा देशों को अपनी चपेट में लेने वाली महामारी कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में उत्तराखंड के हरिद्वार नगर निगम ने एक सैंपल कलेक्शन सेंटर तैयार किया है। इससे पहले दक्षिण कोरिया में इसी तरह का सैंपल कलेक्शन सेंटर बनाया गया था। प्रदेश में अपनी तरह का यह पहला प्रयोग किया गया है। इससे पूर्व केरल और झारखंड में भी इसी तरह का मॉडल बनाया गया है। इन्हीं से प्रेरणा लेते हुए हरिद्वार नगर आयुक्त नरेंद्र भंडारी और सहायक नगर आयुक्त तनवीर मारवाह ने स्थानीय मदद से इस मॉडल को बनवाया।अब तक किसी संक्रमित मरीज की जांच के लिए एक पीपीई किट की आवश्यकता पड़ती थी लेकिन इस तकनीक से पीपीई किट के साथ समय और राजस्व की बचत होगी। इस सैम्पल जांच सेंटर में कोरोना वायरस से सुरक्षा के लिए खास ख्याल रखे गये हैं. इसे एक फोन बूथ की तरह बनाया गया है. चारों तरफ कांच से घेरा गया है, जिसके अंदर डॉक्टर बैठकर बाहर में खड़े संदिग्ध का सिर्फ एक मिनट में मुंह और नाक के सैम्पल ले लेंगे। इन्हें जरुरत पड़ने पर कहीं भी ले जाया जा सकता है। यह बूथ,वायरस संक्रमण के हॉट स्पॉट जगहों पर टेस्टिंग के लिए काफी कारगर होंगे। कोरोना संक्रमण की जांच के लिए कोविड-19 सैंपल कलेक्शन बूथ को रविवार को मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ सरोज नैथानी को ऋषिकुल मेडिकल कॉलेज अस्पताल परिसर में सौंपा गया।