कोरोना ड्यूटी में लगे शिक्षकों के परिजनों की स्वास्थ्य जांच हो-राव आफाक अली

हरिद्वार। जिला शिक्षा समिति के अध्यक्ष राव आफाक अली ने अधिकारियों को शिक्षा व्यवस्था में सुधार करने के निर्देश दिए हैं। जिला पंचायत सभागार में आयोजित समिति की बैठक में अध्यक्षता कर रहे राव आफाक अली ने कहा कि सभी स्कूलों में कैंप का आयोजन कर कक्षा एक से 12 तक के सभी छात्र छात्राओं के शत प्रतिशत आधार कार्ड व बैंक खाते खोलने की जिम्मेदारी प्रधानाध्यपक व जिला शिक्षा अधिकारी की है। समय रहते शिक्षा सत्र की शुरूआत में ही किताबें व स्कूल ड्रैस छात्रों को मिलना चाहिए। हर तीन महीने में स्कूल में स्वास्थ्य शिविर का आयोजन कर सभी बच्चों का मेडिकल चेकअप कराया जाए। शिक्षा का अधिकार अधिनियम के अंतर्गत आॅनलाईन आवेदन करने वाले बीपीएल परिवारों के छात्र छात्राओं को पहले आओ पहले पाओ के आधार पर प्रवेश दिया जाए। कोरोना महामारी व मई जून की छुट्टियों की चार माह की फीस सभी स्कूलों की माफ होनी चाहिए व जब तक आॅलनाईन शिक्षा दी जा रही है तब तक फीस का दो तिहाई माफ होना चाहिए। ट्रांसफर में कोई राजनीतिक दबाव ना माना जाए। दुर्गम व सुगम में बिना किसी भेदभाव के समय समय पर तबादले किए जाएं। मीड डे मील कच्चा राशन छात्रों के घरों पर पहुंचाया जाए। जो शिक्षक कोरोना ड्यटी में लगे हैं। उनके व उनके परिवार का समय समय पर स्वास्थ्य परीक्षण किया जाए। जिला शिक्षा समिति के सचिव व मुख्य शिक्षा अधिकारी आनन्द भारद्वाज के मीटींग में न आने पर शिक्षा समिति रोष जताते हुए भविष्य में ऐसा ना हो यह सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए। बैठक की अध्यक्षता जिला शिक्षा समिति के अध्यक्ष राव आफाक अली ने की। संचालन जिला शिक्षा अधिकारी बेसिक ब्रह्मपाल सिंह सैनी ने किया। बैठक में शिक्षा समिति के सदस्यगणों में रोशनलाल, सपना बाल्मिीकि, तेजपाल, श्रीमती तोसी ने अपने अपने क्षेत्रों के स्कूलों के उच्चीकरण व स्कूलों के आसपास अतिक्रमण हटाकर साफ सफाई कराने के प्रस्ताव रखे। अध्यक्ष ने अपने ग्राम सलेमपुर में कन्या इन्टर कालेज का प्रस्ताव रखा। सभी सदस्यों द्वारा दिए गए प्रस्तावों को सर्वसम्मति से पास किया गया। बैठक में जिला शिक्षा अधिकारी ब्रह्मपाल सिंह सैनी, जिला शिक्षा समन्वयक डीसी भण्डारी, उप शिक्षा अधिकारी सुमन अग्रवाल, खानपुर से उप शिक्षा अधिकारी दीप्ती यादव, भगवान से उप शिक्षा अधिकारी कुंदन सिंह, लकसर से उप शिक्षा अधिकारी अमित कोटियाल व मुख्य शिक्षा अधिकारी के प्रतिनिधि संतोष बमेाला, एडवोकेट राव फरमान अली, अमरदीप रोशन, साजिद अब्बासी, नौशाद मलिक मौजूद रहे।