सर्वे में लगायी गयी टीम को सुरक्षा किट देकर किया रवाना

हरिद्वार। जिलाधिकारी सी रविशंकर ने जनपद में बुजुर्ग, बच्चों, गर्भवती महिलाओं तथा बीमार व्यक्तियों के वृहद सर्वे के लिए बनायी गयी आशा तथा आंनगबाड़ी वर्कर की टीम को गुरूवार को सुरक्षा किट देकर सर्वे के लिए कलेक्ट्रेट रोशनाबाद से रवाना किया। हरिद्वार जनपद इस सर्वे को कराने वाला प्रथम जिला है। इसको सफल बनाने के लिए सभी को टीम के रूप् में कार्य करना हैं सभी विभाग समन्वय बना कर रखें। जिलाधिकारी ने इन वर्करों के साथ सीधा संवाद कर सभी को प्रोत्साहित करते हुए कोरोना योद्धा के रूप् में सम्मानित किया। डीएम ने कहा कि आप जनपद वासियों को सुरक्षित रखने के फं्रट लाइन कार्मिक हैं, इसलिए आपको क्षेत्र में भेजने से पहले कुछ सुरक्षा उपाय चिकित्सा विभाग द्वारा दिये गये प्रशिक्षण में सिखाये गये। डीएम ने साबुन, हेण्ड सेनेटाइजर, मास्क, स्टेशनरी, खाद्य सामग्री वाली किट के साथ अपनी सुरक्षा करते हुए इस महत्वपूर्ण सर्वे को करना है यह भी इन वर्करों को बताया।इन वर्करों द्वार किये गये आज के सैम्पल सर्वे के दौरान फील्ड में आ रही बाधाओं की जानकारी भी डीएम ने ली। डीम ने सभी वर्करों को दो की टीम में एक साथ चलने तथा अपने क्षेत्र में सर्वे के लिए निकलने से पूर्व क्षेत्र की जानकारी प्रशासन के हेल्पलाइन तथा कंट्रोल नम्बर पर तत्काल देने को कहा। इन वर्करों के साथ क्षेत्र में असहयोग तथा र्दुव्यवहार करने की सूचना पर तुरन्त प्रशासनिक अधिकारी और पुलिस मौके पर पहेुंचेगी। उन्होंने कहा कि जिला स्तरीय अधिकारियों के फील्ड में होने के साथ साथ वह स्वंय सर्वे क्षेत्रों में भ्रमण करेंगे। सर्वे टीम की माॅनिटरिंग तथा फील्ड में सुरक्षा के लिए महिला कल्याण विभाग के सुपर वाइजरों सहित विभागीय अधिकारियों की टीम भी लगातार भ्रमण करेगी। उन्होंने आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को अपनी पूर्ण गणवेश में रहने तथा प्रदान की गयी कैप को अनिवार्य रूप् से पहनने का भी कहा। सर्वे रिपोर्ट अगले दिन अवश्यक उपलब्ध करायी जाये। सर्वे के दौरान परिवार के कुल में कुल बुजर्गो तथा बच्चों की संख्या दर्ज की जाये। सर्वे के साथ ही इन परिवारों को एक युनिक कोड प्रदान किया जायेगा। सभी सावधनियां जो बतायी गयी हैं उनको अपनाये स्वचं को सुरक्षित रखते हुए अपने दायित्वों का निर्वहन करे।