दो दिन प्रतिबंधित रहेगे गंगा घाटों पर श्रद्वालुओं का गंगा स्नान,धारा 144 लागू

हरिद्वार। श्रावण शिवरात्रि के मौके पर रविवार को शिवालयों पर होने वाले जलाभिषेक पर पुलिस प्रशासन द्वारा पूरी तरह रोक लगाई गई है। इस दौरान स्थानीय लोग भी शिवालयों में जलाभिषेक से वंचित रहेंगे। भीड़ को रोकने के लिए प्रशासन की ओर से रविवार एव सोमवार को धारा 144 नलागू कर दी गई है।  रविवार को मंदिर भी बंद होंगे। जिस कारण पुजारियों को ही पूजा पाठ करने की अनुमति दी गई है। इसके अलावा किसी को भी मंदिर में नहीं जाने दिया जाएगा। प्रसिद्ध मंदिरों पर पुलिस का पहरा भी रहेगा। श्रावण मेले की शुरुआत छह जुलाई से शुरु हुई थी। रविवार और सोमवार को शिवालयोें में जलाभिषेक होना था,लेकिन इस बार कोरोना महामारी के कारण सरकार ने कांवड़ मेले को रदद् कर दिया था। अब जिला प्रशासन की ओर से 19 और 20 जुलाई को होने वाले जलाभिषेक के अलावा सोमवती अमावस्या को देखते हुए जिले की सीमाओं को सील किया गया है, ताकि कोई भी बाहरी व्यक्ति हरिद्वार न पहुंच सके। सोमवती अमावस्या और चार जिलों में हुए लॉकडाउन के कारण आज रविवार को स्थानीय लोग भगवान शंकर के मंदिरों में जलाभिषेक नहीं कर पाएंगे। सोमवार को मंदिरों में पूजा पाठ में छूट देने की तैयारियां चल रही है, लेकिन अभी तक कोई स्पष्ट आदेश नहीं मिल सका है। रविवार और सोमवार को गंगा स्नान पूरी तरह बंद रहेगा। स्थानीय लोगों भी गंगा स्नान नहीं करने दिया जाएगा। उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की तैयारी भी पुलिस ने की हुई है। एसपी सिटी कमलेश उपाध्याय के अनुसार कि मंदिरों में पुजारियों के अलावा किसी को भी जाने की अनुमति नहीं है। गंगा स्नान पर ही पूरी तरह रोक लगाई गई है। रविवार को चैदस है, जबकि सोमवार को अमावस्या लग जाएगी।