जिलाधिकारी ने की जिला विकास समन्वय निगरानी समिति की बैठक

हरिद्वार। जिलाधिकारी सी.रविशंकर ने कलेक्ट्रेट रोशनाबाद में जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति की समीक्षा बैठक ली। जिलाधिकारी ने सभी निर्माण विभागों को बतायी गयी भौतिक प्रगति के अनुसार पुनः संशोंधित वर्तमान प्रगति की एक्शन टेकन रिपोर्ट सांय 3 बजे तक देने को कहा। उन्होंने कहा कि जितनी प्रगति मौखिक रूप से बतायी गयी है उसको रिपोर्ट में भी देंगे अधिकारी। बैठक में हरिद्वार देहरादून (एनएच-58) के कार्यों की वर्तमान प्रगति, हरिद्वार रिंग रोड निर्माण, मुजफ्फरनगर-हरिद्वार एनएच के कार्य की वर्तमान प्रगति, हरिद्वार नगीना (एनएच-74) 4-लेन के कार्य की वर्तमान प्रगति, राष्ट्रीय राजमार्गाें पर गड्ढों के भराव की स्थिति, राज्य सेक्टर/जिला सेक्टर में कौन सी प्रमुख सड़के स्वीकृत हैं व उनकी प्रगति क्या है, केन्द्रीय सड़क निधि (सीआरएफ) से निर्माणाधीन सड़कों की वर्तमान स्थिति, कुम्भ कार्यों की स्थिति की समीक्षा की। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत पीएमजीएसवाई की सड़कों की स्वीकृति/प्रगति की वर्तमान स्थिति की जानकारी ली। जिलाधिकारी ने दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण ज्योति योजना के अंतर्गत हरिद्वार शहर में अण्डर ग्राउण्ड केबिल बिछाने के कार्यों की प्रगति, कुम्भ कार्यो तथा सौभाग्य योजना/ग्रामीण विद्युतीकरण की प्रगति की समीक्षा की। नमामि गंगे कार्यक्रम के अंतर्गत हरिपुरकलां से जटवाड़ा पुल तक पटरी पर बसे परिवारों के गन्दे पानी की समुचित व्यवस्था, कुम्भ क्षेत्र के बाहरी क्षेत्रों में होने वाले सीवरेज कार्यों की प्रगति तथा कुम्भ मेला कार्यो की प्रगति की समीक्षा की। नगर आयुक्त नगर निगम हरिद्वार एवं रूड़की के अंतर्गत अटल मिशन फाॅर रिजूवेनेशन एण्ड अर्बन ट्रांसफारमेशन (अमृत) योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) की स्थिति, नगर निगम हरिद्वार एवं रूड़की द्वारा कराये जा रहे पार्किंग, सेनिटाइजेशन, सौन्दर्यीकरण आदि कार्यों की प्रगति की भी समीक्षा की।