संघ प्रांत प्रचारक पदम सिंह ने किया रूद्राभिषेक

हरिद्वार। श्री दक्षिण काली मंदिर के परमाध्यक्ष महामण्डलेश्वर स्वामी कैलाशानंद ब्रह्मचारी महाराज ने कहा कि सावन में शिव आराधना का विशेष महत्व है। इस दौरान श्रद्धालु भक्तों को शिव महिमा से अवगत कराते हुए स्वामी कैलाशानंद ब्रह्मचारी महाराज ने कहा कि सावन में भगवान आशुतोष की नियमित रूप से पूजा अर्चना व जलाभिषेक करने से सहस्त्र गुणा पुण्य फल की प्राप्ति होती है। जो श्रद्धालु भक्त पूरे सावन माह भगवान शिव श्रद्धा व विश्वास के साथ आराधना करते हैं। उनके सभी कष्ट दूर हो जाते हैं और उनका जीवन उन्नति की ओर से अग्रसर रहता है। इस दौरान संघ प्रांत प्रचारक पदम सिंह ने श्री दक्षिण काली मंदिर में भगवान शिव की आराधना व रूद्राभिषेक किया। भगवान शिव श्रद्धा और विश्वास के समग्र रूप हैं। संसार के कल्याण के लिए समुद्र मंथन से निकले संपूर्ण विष को अपने कंठ में धारण करने वाले भगवान शिव सदैव भक्तों का कल्याण करते हैं। पूजा अर्चना के बाद संघ प्रचारक पदम सिंह ने कहा कि इस समय पूरा देश कोरोना वायरस से जूझ रहा है। भारतीय संस्कृति व सनातन धर्म में सावन में भगवान भोलेनाथ की पूजा अर्चना का विशेष महत्व है। इस दौरान इस दौरान आचार्य पवनदत्त मिश्र, पंडित प्रमोद पाण्डे, स्वामी विवेकानंद ब्र्हम्मचारी, बालमुकुंदानंद ब्रह्मचारी, अंकुश शुक्ला, सागर ओझा, अनूप भारद्वाज, पंडित शिवकुमार शर्मा आदि मौजूद रहे।