वृक्ष प्रकृति से मिले निशुल्क वेंटिलेटर हैं। इनका महत्व भूलना नहीं चाहिए-जिलाधिकारी

हरिद्वार। जिलाधिकारी ने कहा कि आज का दिन प्रकृति को समर्पित है। उत्तराखंड वासियों का वृक्ष और प्रकृति के प्रति सदैव से लगाव और सम्मानभाव रहा है। इसका ही परिणाम है कि इस दिन को एक पर्व के रूप में मनाया जाता है। उत्तराखंड के लोक पर्व हरेला दिवस पर जिलाधिकारी सी रविशंकर, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सेंथिल अबुदई, मुख्य  विकास अधिकारी  विनीत तोमर,  जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व के के मिश्रा, मुख्य चिकित्सा अधिकारी शम्भू कुमार झा, एकम्स ग्रुप के सहायक प्रबंधक के डी शर्मा और कंपनी अधिकारी तथा एचडीएफसी बैंक के अधिकारियों के साथ रोशनाबाद सी एम् ओ आवासीय प्रांगण में वृक्षारोपण किया। जिलाधिकारी ने कहा कि आज का दिन प्रकृति को समर्पित है। उत्तराखंड वासीयों का वृक्ष और प्रकृति के प्रति सदैव से लगाव और सम्मानभाव रहा है। इसका ही परिणाम है कि इस दिन को एक पर्व के रूप में मनाया जाता है। प्रकृति ने मनुष्य को अथाह संपदाओं से नवाजा है, वृक्षों से मिलने वाली प्राण वायु की महत्ता कोरोना संक्रमण काल ने हम सभी को और अधिक समझायी है। वृक्ष प्रकृति से मिले निशुल्क वेंटिलेटर हैं। इनका महत्व भूलना नहीं चाहिए। इसके साथ ही जिलाधिकारी भेल प्रांगण में वृक्षारोपण किया। इस दौरान भेल ई डी संजय गुलाटी  और अन्य अधिकारी मौजूद रहे।