आॅनलाईन खरीददारी पर रोक लगाने के साथ आर्थिक पैकेज घोषित करने की माग

हरिद्वार। प्रदेश व्यापार मण्डल के जिला महामंत्री विशाल गर्ग ने कहा कि कोरोना काल के साथ साथ लाॅकडाउन व अनलाॅक में व्यापारियों की आर्थिक स्थिति में कोई सुधार नहीं आ रहा है। व्यापार चैपट हो चुका है। व्यापारी दिनभर दुकानों पर खाली समय व्यतीत कर रहे हैं। राज्य व केंद्र सरकार व्यापारियों को कोई राहत नहीं दे पा रही है। उन्होंने कहा कि व्यापारियों की हालत बद से बदतर हो रही है। आॅनलाईन खरीददारी का असर व्यापारियों पर पड़ रहा है। कोरोना संक्रमण के चलते लोग घरों से नहीं निकलते हैं। आॅनलाईन खरीददारी लाॅकडाउन व अनलाॅक में अत्यधिक इस्तेमाल की जा रही है। राज्य की सरकार को आॅनलाईन खरीददारी पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगाना चाहिए। व्यापारी आर्थिक व मानसिक परेशानियों से जूझ रहे हैं। विशाल गर्ग ने कहा कि होटल व्यवसायी, ट्रैवल व्यवसायी, छोटे मझोले लघु व्यापारी अपने रोजगार को लेकर काफी परेशान हैं। शासन प्रशासन भी व्यापारियों की कोई मदद नहीं कर पा रहा है। भारी भरकम टैक्स, बिजली के बिल, स्कूल की फीस, बैंक की किश्तों आदि को लेकर व्यापारियों के परिवारों मानसिक परेशानियां बनी हुई हैं। उन्होंने कहा कि केंद्र एवं राज्य सरकार को समन्वय स्थापित कर व्यापारियों को राहत प्रदान करनी चाहिए। साथ ही आॅनलाईन खरीददारी पर रोक लगायी जाए।