गुकाविवि के प्रध्यापकों के जलसंशोधन में नवीन प्रकार के कार्बन का निर्माण करने सम्बन्धी प्रोजेक्ट मंजूर

हरिद्वार। गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय के प्राध्यापकों को डीएसटी नई दिल्ली एवं यू कास्ट उत्तराखंड द्वारा दो प्राजेक्टों की स्वीकृति प्राप्त होने पर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. रूपकिशोर शास्त्री ने हर्ष व्यक्त किया है। रसायन विज्ञान विभाग के डा. सुहास को डीएसटी ने एक नवीन हरित हायड्रोथर्मल तकनीक के द्वारा एक्टीवेटेड कार्बन बनाने के लिए लगभग चालीस लाख का प्रोजेक्ट स्वीकृत किया। इस प्रोजेक्ट से जल संशोधन के लिए नवीन प्रकार के कार्बन का निर्माण किया जा सकेगा। जिससे प्रदूषित जल को शुद्ध करना संभव होगा। डा. सुहास शोधपत्र लेखन के संबंध में तथा सैटेशन का गौरव भी इनके नाम से अंकित है।कम्प्यूटर विज्ञान विभाग के डा. श्वेतांक आर्य को यू कोस्ट, उत्तराखंड ने इमेज प्रोसेसिंग के क्षेत्र में प्रोजेक्ट की स्वीकृति प्रदान की है। इस प्रोजेक्ट से आगामी कुंभ मेले में आने वाले असंख्य तीर्थयात्रियों पर आर्टीफीशल इन्टेलीजेन्सी के माध्यम से इमेज प्रोसेसिंग द्वारा भीड़ द्वारा संभावित दुर्घटनाओं का आंकलन करके प्रशासन को अतिशीघ्र सचेत करना संभव होगा। दोनों युवा प्रतिभावान प्राध्यापकों को विश्वविद्यालय के कुलसचिव प्रो दिनेश चन्द्र भट्ट, प्रो. एमआर वर्मा, प्रो. एलपी पुरोहित, डा दीनदयाल ने शुभकामना दी है।