पेयजलापूर्ति में परेशानी के खिलाफ व्यापारियों ने किया जलसंस्थान के खिलाफ प्रदर्शन

हरिद्वार। शहर के कई इलाकों में रोजाना पानी की किल्लत को परेशान जनता ने महानगर व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष सामाजिक कार्यकर्ता सुनील सेठी के नेतृत्व में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए प्रदर्शन कर जल संस्थान के गैर जिम्मेदार अधिकारियों को हटाए जाने की मांग की। सुनील सेठी ने कहा कि उत्तरी हरिद्वार में लंबे समय से पानी की किल्लत बनी हुई है। जल संस्थान बिना सूचना दिए ही कभी भी पानी की सप्लाई बाधित कर देता है। पूछे जाने पर अपनी लापरवाही छिपाने के लिए अधिकारी कभी बिजली नहीं होने या कभी लाईन टूटी होने का बहाना बनाकर जनता को टाल देते हैं। खड़खडेश्वर व्यापार मंडल अध्यक्ष राजेश सुखीजा, विनोद गिरी, धर्मपाल प्रजापति ने संयुक्त रूप से कहा कि सप्लाई बाधित होने की वजह से लोगों का पीने के लिए भी पानी नहीं मिल पा रहा है। रोजमर्रा के घरेलू कार्य भी प्रभावित हो रहे हैं। उन्होंने मांग की कि बिजली जाने की स्थिति में पम्प पर जनरेटर की व्यवस्था होनी चाहिए। लेकिन अधिकारियों की लापरवाही का खामियाजा जनता को उठाना पड़ रहा है। जिसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। यदि व्यवस्था नही सुधरी तो पानी के बिल जमा नही करवाए जाएंगे। सरकार पानी के बिल माफ नही कर सकती तो पानी तो पूरा मिलना चाहिए। विरोध जताने वालों में मुख्य रूप से सोनू सुखीजा, राजेश शर्मा, भूदेव शर्मा, सुभाष ठक्कर, शुभम सुखीजा, रिंकू कुमार, मनीष धीमान, प्रीतम सिंह, दीपक मेहता, योगेश अरोड़ा, प्रदीप कुमार, नरेश गिरी, एसएन तिवारी, पंकज ममगाई, रोहित कुमार, राजेश शर्मा, रवि कुमार, शिप्पी भसीन, रविन्द्र चैहान, अरुण कुमार, मयंक कुमार, राहुल चैहान, गणेश शर्मा आदि मौजूद रहे।