पूरे देश में समान नागरिक संहिता लागू करने की जरूरत-श्रीमहंत नरेन्द्र गिरि

हरिद्वार। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमहंत नरेंद्र गिरि ने कानून बनाकर मुसलमानों के अल्पसंख्यक दर्जे को खत्म करने और पूरे देश में समान नागरिक संहिता लागू करने की मांग की है। उन्होंने मुसलमानों को एक से अधिक बच्चे पैदा करने और तीन तलाक की तरह कानून बनाकर बहु विवाह करने पर भी रोक लगाने की मांग की है। श्री महंत नरेंद्र गिरि गुरुवार सुबह निरंजनी अखाड़े में पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि देश में मुसलमानों के लिए अलग और हिंदुओं के लिए अलग दो तरह के कानून नहीं चलेंगे। देश की सरकार को तय करना होगा कि वह किस ओर जा रही है। कहा कि देश के विकास शांति और सांप्रदायिक सौहार्द के लिए देश में समान नागरिक संहिता का लागू होना जरूरी है। उन्होंने कहा कि अल्पसंख्यक होने के बावजूद मुस्लिम समाज बहुत संख्यक हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं को लगातार आहत कर रहा है, अब यह बर्दाश्त के बाहर होता जा रहा है, इसलिए सरकार को इस मामले में गंभीरता से सोचना पड़ेगा और कड़े कानून बनाकर व्यवस्था बनानी पड़ेगी। उम्मीद जताई कि भाजपा सरकार में यह कानून बन सकेगा।