राम मंदिर भूमि पूजन को दीपोत्सव के रूप में मनाएं-महंत प्रेमदास

हरिद्वार। नीलेश्वर महादेव मंदिर के परमाध्यक्ष महंत पे्रमदास महाराज ने कहा कि प्रभु श्रीराम जन जन के आराध्य हैं और प्रत्येक व्यक्ति के हृदय में विराजमान हैं। अयोध्या में निर्मित होने वाले राम मंदिर का शिलान्यास संत महापुरूषों के सानिध्य में पांच अगस्त को होगा। जो देश के लिए गौरव की बात है। उन्होंने कहा कि इस ऐतिहासिक पल के अवसर पर सभी रामभक्तों को अपने अपने घरों में 11 दीपक अवश्य जलाने चाहिए। क्योंकि लंबे कानूनी संघर्ष व बलिदानों के बाद प्रभु श्रीराम का मंदिर बनने का अवसर आया है। इस अवसर को दीपोत्सव के रूप में मनाएं। उन्होंने कहा कि संत समाज के अनेकों आंदोलन और हजारों रामभक्तों के बलिदान के बाद यह सुनहरा क्षण आया है। देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संत महापुरूषों के सानिध्य में श्रीराम मंदिर का शिलान्यास करेंगे। उन्होंने अपील करते हुए कहा कि जो लोग अयोध्या में होने वाले शिलान्यास में शामिल होंगे। वह भी और जो अपने घर पर रहेंगे वह भी इस ऐतिहासिक क्षण को एक पर्व के रूप में मनाएं। उन्होंने कहा कि नीलगिरी पर्वत स्थित नीलेश्वर महादेव मंदिर प्रांगण में प्रतिदिन एक हजार आठ दीपक जलाए जा रहे हैं। देश के सभी मठ मंदिरों में भी दीप प्रज्वलित होने चाहिए। इस दौरान म.म.स्वामी हरिचेतनानंद, महंत कमलदास, स्वामी कृष्णानंद, स्वामी केशवानंद आदि उपस्थित रहे।