राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के नगर संचालक नरेंद्र पाल का निधन

हरिद्वार। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ हरिद्वार के नगर संचालक नरेंद्र पाल का बुधवार को ऋषिकेश एम्स अस्पताल में निधन हो गया। वह 76 वर्ष के थे। कोविड-19 से संक्रमिण के चलते वह पिछले कई दिनों से एम्स में भर्ती थे। बुधवार सुबह हृयगति रुकने के कारण उनका निधन हो गया। नरेंद्र पाल के आक्समिक निधन की सूचना मिलते ही पूरे संघ परिवार में शोक की लहर दौड़ पड़ी। नरेंद्र पाल ने अपना पूरा जीवन संघ कार्यों के लिए समर्पित किए रखा। वे बाल समय से ही संघ से जुड़े और अपनी आयु पूर्ण करने तक संघ के विभिन्न दायित्व पर रहे। बीएचएल में सेवा के दौरान वह भारतीय मजदूर संघ में सक्रिय रहे। सेवानिवृत्त होने के बाद वह सेवा भारती के जिला प्रमुख व प्रांतीय सदस्य रहे। इसी के साथ विद्या भारती द्वारा संचालित सरस्वती शिशु विद्या मंदिर सेक्टर-2 भेल के वह प्रबंधक थे। जबकि आरएसएस के नगर अभिभावक के रूप में वह नगर संचालक की भूमिका निभा रहे थे। नरेन्द्र पाल अपने पीछे पत्नी, एक पुत्री व एक पुत्र छोड़ गए है। नरेंद्रपाल का अंतिम संस्कार केंद्रीय कोविड गाइड लाइन के अनुसार ऋषिकेश में 13 अगस्त को किया जाएगा। जिला संघ संचालक रोहिताश कुंवर ने कहा कि नरेन्द्र पाल के रूप में हरिद्वार संघ परिवार ने अपना अभिभावक खो दिया है। इनका निधन संघ परिवार के लिए बहुत बड़ी क्षति है। जिसे पूरा नहीं किया जा सकता।