आमजन के लिए हिलबाई पास मार्ग खोले जाने पर ही लगाये सरकारी धन-सेठी

हरिद्वार। महानगर व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष सामाजिक कार्यकर्ता सुनील सेठी ने हिल बाईपास के नाम पर बन रहे 3,50 करोड़ के प्रस्ताव पर उत्तराखण्ड सरकार के मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर मांग की है कि इस वैकल्पिक मार्ग पर जब तक जनता को आवागमन की अनुमति वन विभाग नही देता तो इस मार्ग पर बार बार जनता के पैसे को क्यो लगाया जाता है। पहले इसे स्थायी रूप से खोलने की अनुमति वन विभाग से प्राप्त की जाए। उंसके पश्चात ही इस मार्ग पर पैसा लगाकर इस मार्ग को नई तकनीक के साथ तैयार किया जाए। पूर्व में भी इस मार्ग पर करोड़ो रूपये खर्च किये गए लेकिन जब हरिद्वार की जनता को इसकी जरूरत होती है। तब वन विभाग की अनुमति न होने की वजह से इस मार्ग को बन्द कर दिया जाता है। पूर्व के कई मेलो में हाइवे पर जाम होने के बावजूद इस मार्ग को नही खोला जाता। फिर इस मार्ग पर पैसा लगाने का कोई औचित्य नही। दूसरा पहलू आवागमन न होने की वजह से ओर बारिश के बाद इस मार्ग की स्तिथि खराब हो जानी भी स्वाभाविक है। जिससे सभी भली भांति परिचित है। इसलिये इस मार्ग पर पैसा लगाने का कोई औचित्य नही। इससे अच्छा इस बजट को उतरी हरिद्वार में अस्पताल निर्माण में लगाया जाना चाहिए। इस मार्ग पर पैसा तभी लगाया जाए जब इसका लाभ हरिद्वार की जनता को मिल सके।


Comments