दलित युवती के साथ दुराचार करने के आरोपी को फाॅंसी देने की मांग,

हरिद्वार। यूपी के हाथरस में दलित युवती की बलात्कार, दरिंदगी के बाद हुई मौत से गुस्साए दलित आर्मी के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने प्रदेश अध्यक्ष नवीन तेश्वर के नेतृत्व में देवपूरा चैक पर प्रदर्शन कर उत्तर प्रदेश सरकार का पुतला फूंका। कार्यकर्ताओं ने सिटी मजिस्ट्रेट कार्यालय के माध्यम से राष्ट्रपति को ज्ञापन प्रेषित कर मृतका व उसके परिजनों को न्याय दिलाने तथा आरोपियों को अविलंब फांसी की सजा दिए जाने की मांग की। जिला उपाध्यक्ष हरिद्वार राकेश लोहट ने कहा कि यूपी के हाथरस में खेत में चारा लेने गयी दलित समाज की युवती के साथ गाँव के ही दंबगों द्वारा जघन्य तरीके से बलात्कार किया गया तथा जान से मारने की नीयत से उसकी रीढ़ ओर गर्दन की हड्डी तोड़ दी गई। इतना ही नहीं दरिंदों ने अमानवीयता की हदें पार करते हुए पीड़िता बयान न दे सके, इसलिए उसकी जीभ भी काट दी। इस जघन्य घटना से पूरे देश के वाल्मीकि समाज में भयंकर आक्रोश व्याप्त है। प्रदेशाध्यक्ष नवीन तेश्वर ने कहा कि बलात्कार व हत्या करने वाले अविलम्ब फांसी की सजा दी जाए तथा प्रभावित परिवार को सुरक्षा व एक करोड़ रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाए। विभाग प्रमुख अमित मुलतानिया ने उत्तर बहन बेटियों का शोषण बिल्कुल भी बर्दाश्त नही किया जाएगा।  विनीत जोली ने कहा कि यदि पीड़िता को जल्द न्याय नही मिला तो वाल्मिीकि समाज पूरे देश में सड़कों पर उतरकर करेगा। जिला महामंत्री राकेश गोड़ियाल ने कहा कि ऐसे दरिंदो को तुरंत प्रभाव से फांसी की सजा दी जानी चाहिए। जिससे फिर कोई इस तरह का दुस्साहस करने का प्रयास ना कर सके। संगठन मंत्री चंद्रप्रकाश ने कहा कि पीड़िता व उसके परिवार को न्यास दिलाने के लिए किसी भी संघर्ष से पीछे नहीं हटेंगे। इस दौरान संजय कुमार, पदम् कांगड़ा, हनी चैटाला, पार्षद विनीत जोली, कमल उलीयान, इंद्रजीत लोहट, आयुष गोड़ियाल, पूनम मखीजा, नूतन, संदीप चिनालिया, अर्जुन, काला, अभिषेक गोड़ियाल, पवन छाछ, विजय राणा, अमन बिरला, दीपक, राहुल, संदीप, अजय कार्तिक, मोहित, रितिक, शुभम, शुभम सोंधी, अर्जुन लोहट, हरीश कुमार आदि शामिल रहे।