केन्द्र की भाजपा सरकार किसानों को बर्बाद करने पर उतारू-पूनम भगत

हरिद्वार। कांग्रेस प्रदेश सचिव पूनम भगत ने कहा कि भारत कृषि प्रधान देश है। लेकिन केंद्र की भाजपा सरकार भारत के किसानों को बर्बाद करने पर उतारू है। प्रैस का जारी बयान में उन्होंने कहा कि कृषि विधेयक बिल कृषि और किसान को बर्बाद करने वाला विधेयक है।  बिल मे भाजपा की केंद्र सरकार ने किसानों की पूरी तरह अनदेखी की है। पूनम भगत ने कहा कि इस बिल से किसानों की जमीनों का औद्योगीकरण होगा और किसानों की जमीन व अधिकार सुरक्षित नहीं रह पाएंगे। केंद्र सरकार द्वारा इसे संसद में पारित कराकर इसे कानून बनाने की शक्ल देने का जो प्रयास किया जा रहा है। उसके खिलाफ कांग्रेस चुप नहीं रहेगी। भारत की कृषि और किसान को बचाने के लिए कांग्रेस पार्टी हर सम्भव प्रयास करेगी। पूनम भगत ने कहा कि केंद्र सरकार इस किसान व कृषि विरोधी विधेयक  को पारित कर इसे कानून की शक्ल देने का प्रयास किया जा रहा है। जिससे सीधे तौर पर किसान के आस्तित्व को खतरा पैदा होगा। इस विधेयक के आने से कॉट्रेक्ट फार्मिंग को बढावा मिलेगा। जिससे छोटे किसानों को नुकसान होगा। उनके जमीन और अधिकारों पर केंद्र द्वारा उद्योगपतियों के अधिकार रास्ता बनाया जा रहा है। यह तीनों ही विधेयक किसान विरोधी हैं अगर मंडियां खत्म हो गई तो किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य नहीं मिल पाएगा और पूजीपतियों को किसानों का शोषण करने का अवसर मिलेगा।