कोरोना काल के दौरान संघर्ष में योगदान देने वाले पत्रकारों,व्यक्तियों को किया सम्मानित

हरिद्वार। बीएचईएल अनुसूचित जाति इम्पलाईज वैलफेयर एसोसिएशन द्वारा संचालित डा.भीमराव अंबेडकर शिक्षा सहभागिता कार्यक्रम के तत्वाधान में अंतर्राष्टीय मानवाधिकार काउंसिल द्वारा कोरोना के खिलाफ संघर्ष में योगदान करने वाले सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों व पत्रकारों को कोरोना योद्धा सम्मान से सम्मानित किया गया है। इस दौरान शिक्षा सहभागिता कार्यक्रम में शिक्षा ग्रहण कर रहे प्रतिभाशाली बच्चों को भी सम्मानित किया गया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विशिष्ट अतिथि काउंसिल के उत्तराखण्ड प्रभारी मेहताब हुसैन जैदी ने कहा कि भेल अनुसूचित जाति इम्पलाईज वेलफेयर एसोसिएशन शिक्षा सहभागिता कार्यक्रम के जरिए गरीब, असहाय परिवारों के बच्चों को निःशुल्क शिक्षा प्रदान कर शिक्षा के क्षेत्र में अहम योगदान कर रही है। भेल के पूर्व महाप्रबंधक आरयू प्रसाद व पूर्व अपर महाप्रबंधक आरएल व्यास ने कहा कि सभी वर्गो के बच्चों को समान रूप से शिक्षा के अवसर प्राप्त होने चाहिए। शिक्षित समाज ही राष्ट्र की उन्नति में अपना योगदान दे सकता है। उन्होंने कोरोना काल में सामाजिक क्षेत्र में अपना योगदान देने वाले पत्रकारों व सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों की भी सराहना की। बीएचईएल एससी इम्पलाईज वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष अशोक कटारिया, महासचिव मंजीत सिंह, कोषाध्यक्ष सोमपाल सिंह ने कार्यक्रम में पधारे सभी अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि यह जनसेवा समाजोत्थानम में मील का पत्थर साबित हो रही है। उन्होंने कोरोना काल में समाज को अपनी लेखनी के माध्यम से जागरूक करने में दीपक मौर्य, ज्ञानप्रकाश पाण्डे, शिवा अग्रवाल, तनवीर अली, नवीन, सुनील कुमार आदि पत्रकारों के योगदान की प्रशंसा की। सम्मानित होने वाले मेधावी बच्चों में अर्चना, अनुराधा, बबली, ईशा, संजना, दीपाली वर्मा, अनुराधा, खुशी आदि शामिल रहे। रणवीर सिंह चैेधरी व देवेंद्र सिंह ने बच्चों को शुभकामनाएं देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की।