मारपीट करने,तीन तलाक देने के आरोप में पति समेत तीन के खिलाफ मुकदमा दर्ज

हरिद्वार। कोतवाली ज्वालापुर पुलिस ने दहेज में दो लाख की नकदी और बाइक न मिलने पर युवक ने शादी के 10 साल बाद पत्नी को तीन तलाक बोल दिया। पीड़िता ने ज्वालापुर कोतवाली में पति व सास-ससुर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। पुलिस के मुताबिक ज्वालापुर के मोहल्ला घोसियान निवासी जहीर हसन की बेटी गुलिस्ता की शादी करीब 10 साल पहले देहरादून में आइएसबीटी क्षेत्र निवासी शाहनवाज से हुई थी। गुलिस्ता ने पुलिस को तहरीर देकर बताया कि शादी के कुछ दिन बाद ही पति और ससुराल वाले दहेज में दो लाख रुपये की नकदी और बाइक की मांग करने लगे थे। बेटा पैदा होने पर कुछ दिन के लिए उनका रवैया बदला, मगर बाद में फिर से मारपीट व दहेज के लिए उत्पीड़न करने लगे। कुछ दिन पहले पति व ससुरालियों ने मारपीट कर उसे घर से बाहर निकाल दिया। ज्वालापुर में मायके से कुछ दूरी पर किराये पर कमरा लेकर रहने लगी। विवाहिता का आरोप है कि बीते 16 मार्च को उसका पति ज्वालापुर पहुंचा और मारपीट कर तीन बार तलाक बोलकर चला गया। पीड़िता का कहना है कि पति उससे बेटा मांग रहा है। बेटा वापस न देने पर धमकी दी जा रही है। इनके अलावा विवाहिता ने कई अन्य गंभीर और संगीन आरोप अपने पति पर लगाए हैं। पुलिस ने तहरीर के आधार पर आरोपित पति शाहनवाज, सास रानी व ससुर नवाबुद्दीन निवासी मुस्कान होटल के पीछे वाली गली, निकट आइएसबीटी देहरादून के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। ज्वालापुर कोतवाली प्रभारी प्रवीण कोश्यारी ने बताया कि तीन तलाक व अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। जांच कर कार्रवाई की जाएगी।