नगर निगम टीम ने चलाया डेंगू जागरूकता अभियान,होटल के खिलाफ 5हजार का चालान

हरिद्वार। जिलाधिकारी के निर्देश पर नगर निगम टीम ने जिला मलेरिया अधिकारी डा.गुरनाम सिंह के नेतृत्व में जगजीतपुर वार्ड नंबर 54 में अभियान चलाते हुए लोगों को डेंगू के प्रति जागरूक करते हुए बचाव के उपाय बताए। इस दौरान टीम ने कई घरों में डेंगू का लार्वा भी ढूंढकर नष्ट किया। टीम की ओर से लार्वा ढूंढने के लिए दो दर्जन से अधिक स्थानों पर विजिट किया। जिनमें से दो जगह डेंगू का लार्वा मिला। जिसको टीम ने नष्ट कर दिया। पार्षद नागेंद्र राणा ने लोगों को डेंगू बचाव के तरीके समझाते हुए बताया कि छतों पर पानी एकत्र न होने दे, गमलों का पानी साप्ताहिक तौर पर बदलें, डेंगू से बचने का एकमात्र उपाय सतर्कता है। सतर्क रहें और आसपास पानी को एकत्र न होने दें। जिला मलेरिया अधिकारी डा.गुरनाम सिंह ने बताया कि आजकल बरसात का सीजन है। जिस कारण बीमारी का खतरा भी बना रहता है। निरंतर साफ सफाई होगी और कहीं भी पानी नहीं रुकेगा तो डेंगू मच्छर पैदा नहीं होगा। उन्होंने बताया कि डेंगू के अलावा कोरोना रोकथाम के लिए जगह-जगह कीटनाशकों का छिड़काव किया गया है। कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए भी जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है।  इस मौके पर नगर निगम एसआई सुनित कुमार, वार्ड सुपरवाइजर जयप्रकाश, कमल कांगड़ा, संदीप, अशोक, रमेश, अमित, रणधीर आदि मौजूद रहे। दूसरी ओर नगर निगम की टीम ने डेंगू की रोकथाम के लिए अभियान चलाते हुए स्वच्छता को भी परखा। इस दौरान एक होटल संचालक की ओर से कूड़ा आवासीय परिसर में फेंका जा रहा था। इस पर अधिकारियों ने पांच हजार का जुर्माना लगाया। दोबारा ऐसा करने पर कानूनी कार्रवाई की चेतावनी दी। रविवार को मुख्य नगर स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. हेमंत आर्य टीम के साथ डेंगू की रोकथाम के लिए लोगों को जागरूक करने के साथ उनके घरों में डेंगू लार्वा की जांच कर नष्ट कराकर आ रहे थे। तभी उन्हें श्रवणनाथ स्थित होटल से कूड़ा और गंदगी होटल के पीछे आवासीय परिसर में फेंकते हुए लोग दिखे। इस पर उन्होंने फटकार लगाते हुए होटल संचालक पर पांच हजार रुपये का चालान किया। मुख्य नगर आयुक्त शैलेंद्र सिंह नेगी ने कहा कि गंदगी फैलाने वालों से सख्ती से निपटा जाएगा।