न्याय के लिए धरना देने के लिए जाते समय गिरफ्रतारी लोकतंत्र की हत्या-जगजीत सिंह

हरिद्वार। हरकी पैड़ी पर धरना देने जा रहे सिक्ख समाज के लोगों को रोकने के मामले में शिरोमणि अकाली दल (अ) के पदाधिकारियों ने कड़ा ऐतराज जताया है। आरोप लगाया कि धरना देकर न्याय मांगने जा रहे लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लोकतंत्र की हत्या की है। सोमवार को रानीपुर मोड़ स्थित एक होटल में पत्रकारों से वार्ता करते हुए शिरोमणि अकाली दल (अ) के प्रदेश अध्यक्ष जगजीत सिंह जग्गा ने कहा कि पथरी के ऐथल में कुलबीर सिंह की हत्या में नामजद आरोपी और धार्मिक ग्रंथ का अपमान करने वाली महिला को गिरफ्तार करने की मांग को लेकर सिख समाज के लोग धरना देने जा रहे थे। लेकिन पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर आवाज को दबाने का काम किया है। लोकतंत्र में सबको अधिकार है कि न्याय मांगने के लिए धरना, प्रदर्शन किया जा सकता है। लेकिन जब न्याय मांगने के लिए धरना देने जा रहे थे तो पुलिस ने गिरफ्तारी कर लोकतंत्र की हत्या की। जिलाध्यक्ष सूबा सिंह ढिल्लो ने कहा कि दो मांगों को लेकर ही अकाली दल के साथ सिख समाज के लोग धरना देने के लिए जा रहे थे। गुरद्वारा ज्ञान गोदड़ी का इसमें कोई मामला नहीं है। ज्ञान गोदड़ी को लेकर पहले से ही हाइकोर्ट में मामला चल रहा है। प्रेस वार्ता में ऋषिकेश के जत्थेदार परमजीत सिंह, सतविंदर सिंह, जसपाल सिंह, गुरप्रीत सिंह आदि शामिल रहे।