पल्स पोलियो अभियान को लेकर जिलाधिकारी ने दिए निर्देश,कोई नही खुराक से अछूता

हरिद्वार। जिलाधिकारी सी0 रविशंकर की अध्यक्षता में आज कलेक्ट्रेट सभागार में पल्स पोलियो के सफल क्रियान्वयन हेतु जिला टास्क फोर्स समिति एवं मीडिया कमेटी की बैठक आयोजित हुई।   बैठक में अधिकारियों ने जिलाधिकारी को बताया कि कोविड-19 को देखते हुये पोलियो की खुराक पिलाने के लिये विशेष व्यवस्थायें बनाते हुए खुराक सभी जोनों में पिलाई जायेगी। उन्होंने बताया कि 20 सितम्बर को सभी बूथों में पोलियो की खुराक प्रातः आठ बजे से चार बजे तक पिलाई जायेगी। उसके बाद 21 से 26 सितम्बर तक घर-घर जाकर पोलियो की खुराक पिलाई जायेगी। उन्होंने यह भी बताया कि बूथ संचालन व घर-घर पोलियो खुराक पिलाने के सम्बन्ध में सुपरवाइजर और खुराक पिलाने वालों के बीच में संवाद स्थापित करने तथा दिशा-निर्देश देने के लिये व्हाट्सएप का इस्तेमाल किया जायेगा एवं स्थानीय भाषा में व्हाट्सएप वीडियो तैयार किये जायेंगे, जिससे कोविड-19 के खतरे को देखते हुये बूथ संचालन आदि में जरूरी कदम उठाये जा सकें। इसके अलावा यह भी बताया गया कि जहां पर आवश्यक हो बूथों पर हाथ धोने की व्यवस्था हो, संक्रमण न फैलने पाये इसके लिये प्रवेश तथा निकासी के अलग-अलग द्वार हों, बूथ में एक समय में पांच व्यक्तियों से अधिक न हों तथा उनके बीच में कम से कम दो मीटर की दूरी जरूरी हो। बैठक में यह भी बताया गया कि बूथ संचालन के जो मैम्बर हैं, वे मास्क पहनेंगे, वैक्सीनेशन के पहले साबुन से हाथ धोयेंगे या एल्कोहल बेस्ड सेनेटाइजर का प्रयोग करेंगे। टीम मैम्बर को अपना आईकार्ड प्रदर्शित करना करना होगा तथा बच्चे को छूने से परहेज करना होगा। जिलाधिकारी ने इस बात पर नाराजगी जताई कि पल्स पोलियो के जनवरी,2020 में चलाये गये अभियान के समय भगवानपुर, रूड़की, बहादराबाद तथा खानपुर में कुछ बच्चे पोलियो की खुराक पिलाने से वंचित रह गये थे, जो स्थिति अच्छी नहीं है। इस पर सुधार लाया जाये। उन्होंने कहा कि परिणाम शत-प्रतिशत मिलना चाहिये। इसमें हीलाहवाली बर्दाश्त नहीं की जायेगी। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी विनीत तोमर,मुख्य चिकित्साधिकारी,डाॅ0 एस0के0 झा,ए0सी0एम0ओ,डाॅ0 एच0डी0 शाक्य,डाॅ0 अजीत गुप्ता,एस0एम0ओ0(डब्ल्यू0 एच0ओ0) सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित थे।