सात महीने तक चलने वाली धर्म यात्रा की सफलता की कामना माॅ गंगा से

हरिद्वार। धर्म यात्रा के लिए भोपाल से चल कर हरिद्वार पहुंचे कृष्णदेवानंद सरस्वती ने देव भूमि अस्पताल में परम पूज्यनीय दादा गुरु स्वामी ब्रम्हानंद सरस्वती व अखाड़ा परिषद के पूर्व प्रवक्ता बाबा हठ योगी से आशीर्वाद लेकर मां गंगा से यात्रा की सफलता की प्रार्थना की। धर्म बचाओ यात्रा पर निकले कृष्णदेवानंद सरस्वती की 7 महीने निरंतर चलने वाली धर्म यात्रा जम्मू, हिमाचल प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान, मध्य प्रदेश, गुजरात, महाराष्ट्र, गोवा, कर्नाटक, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, छत्तीसगढ़, उड़ीसा, झारखंड, बिहार, सिक्कम, आसाम, नेपाल, उत्तर प्रदेश लद्दाख होते हुए वापस हरिद्वार में संपन्न होगी। कृष्णदेवानंद सरस्वती ने बताया कि यात्रा का उद्देश्य देश भर में फैले खंड खंड में बंटे सनातन धर्मीयो को एक सूत्र में बांध कर सनातन वैदिक राष्ट्र की स्थापना करना है। बाबा हठयोगी ने कहा कि कृष्णदेवानंद सरस्वती की धर्म यात्रा से सनातन धर्म को मजबूती मिलेगी। यात्रा से सनातनधर्मियों में जागरूकता आएगी। संत समाज सदैव धर्म रक्षा के लिए तत्पर रहा है। अखण्ड परशुराम अखाड़े के अध्यक्ष पंडित अधीर कौशिक ने कहा कि धर्म रक्षा के लिए जातियों व विभिन्न सम्प्रदायों में बंटे सनातनधर्मियों को एक मंच पर आना होगा। इस दौरान रूद्रनंद सरस्वती, भागवताचार्य पवन किशन शास्त्री, संत कुमार पंचोली आदि मौजूद रहे।