सिक्ख समाज ने पुलिस पर लगाया अल्पसंख्यक समुदाय की उपेक्षा का आरोप

पुलिस द्वारा गंभीर धाराओं में दर्ज मामलों में कारवाई नही होने पर दी धरना देने की चेतावनी


हरिद्वार। डा.मनोज कुमार- शिरोमणि अकाली दल अ ने शासन-प्रशासन पर आरोप लगाया है कि अल्पसंख्यक समुदाय खासकर सिक्ख समुदाय की उपेक्षा की जा रही है। गुरूग्रंथ साहब की बेअदबी तथा हत्या जैसे गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज होने के बावजूद आरोपी के बहुसंख्यक समुदाय से होने के कारण कारवाई नही की जा रही है। चेतावनी दी कि अगर पांच दिन के भीतर आरोपियों के खिलाफ कारवाई नही हुई तो सिक्ख समाज के लोग अनिश्चितकालीन धरना प्रारम्भ कर देंगे। सोमवार को दल के अध्यक्ष जगजीत सिंह जग्गा ने प्रेस क्लब में पत्रकारों से वार्ता करते हुए बताया कि गत 20जून को गुरूद्वारा ज्वालापुर में श्रीगुरू ग्रंथ साहिब की महिला द्वारा बेअदबी की गयी। इस मामले में सिक्ख समाज के लोगों द्वारा काफी समय तक मांग किये जाने के बाद कोतवाली ज्वालापुर में मुकदमा दर्ज किया गया,लेकिन अभी तक आरोपी के खिलाफ किसी प्रकार की कारवाई नही की गई। मामले को लेकर समाज के लोगों द्वारा पुलिस के उच्चाधिकारियों को अवगत कराया गया,कारवाई का आश्वासन मिला,लेकिन करीब दो महीने बाद भी कारवाई नही हो पायी है। उसी तरह एंेथल गांव में सिक्ख समुदाय के युवक कुलबीर सिंह पुत्र यशपाल सिंह की हत्या पिछले महीने की 26 जुलाई को हुई। हत्या के इस मामले में चार लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कराया गया,लेकिन पथरी पुलिस द्वारा अभी तक आरोपियों के खिलाफ कारवाई नही की जा रही है। इतना ही नही पीड़ित प़क्ष द्वारा कारवाई के बारे में पूछे जाने पर पुलिस पीड़ित पक्ष का ही उत्पीड़न करने लगती है। आरोप लगाया कि आरोपियों के रसूखदार होने के कारण पुलिस कारवाई नही कर रही है। इस मामले को भी लेकर पीड़ित पक्ष द्वारा डीएम,एसएसपी,डीजीपी को पत्र लिखा गया,फिर भी आरापियों के खिलाफ कोई कारवाई नही की जा रही है। ऐसा लगता है कि भाजपा शासन में सिक्ख समुदाय के अल्पसंख्यक वर्ग से होने के कारण आरोपियों के खिलाफ कारवाई नही जा रही है। चेतावनी दी कि अगर पांच दिन के भीतर दोनो मामलों में आरोपियों के खिलाफ कारवाई नही की गयी तो दल के नेतृत्व में सिक्ख समाज के लोग सीसीआर अथवा हर की पैड़ी पर अनिश्चितकालीन धरना प्रारम्भ कर देंगे। जिसकी जिम्मेदारी प्रशासन की होगी।