उत्तराखंड वाणिज्य कर मिनिस्टीरियल स्टॉफ एसोसिएशन की मांग पदोन्नति में शिथिलीकरण

हरिद्वार। उत्तराखंड वाणिज्य कर मिनिस्टीरियल स्टॉफ एसोसिएशन शाखा हरिद्वार ने सरकारी विभागों में पदोन्नति में शिथिलीकरण करने की मांग की है। संगठन नेताओं ने एक पत्र मुख्यमंत्री और दूसरा प्रांतीय संगठन को भेजा है। संगठन का कहना है मिनिस्टीरियल कर्मचारी शिथिलीकरण की मांग लंबे समय से करते आ रहे हैं। लेकिन सरकार ने जीओ जारी करने के बाद भी लागू नहीं किया है। सरकार कर्मचारियों की मांगों को पूरा करने को गंभीर नहीं है। हरिद्वार में वाणिज्य कर विभाग के साथ ही अन्य जनपदों के कर्मचारियों में सरकार के प्रति रोष व्याप्त है एसोसिएशन के शाखा अध्यक्ष इंद्रजीत सिंह ने कहा कि कर्मचारी सरकार के समक्ष पुरजोर तरीके से अपनी मांगों को रखेंगे। उन्होंने कहा कि शिथलीकरण को सरकार जल्दी लागू नहीं करती है तो कर्मचारी आगे की रूपरेखा बनाने के बाध्य होंगे। उन्होंने कहा कि उत्तरांचल मिनिस्टीरियल फेडरेशन की जिला इकाई को पत्र लिखकर शिथिलीकरण की मांग की है। उत्तराखण्ड वाणिज्य कर मिनिस्टीरियल स्टॉफ एसोसिएशन शाखा हरिद्वार शाखामंत्री देवेन्द्र रावत ने कहा कि सरकारी विभागों में विभिन्न स्तरों पर पदोन्नति में अर्हकारी सेवा में शिथिलीकरण नियमावली 2010 और संशोधन नियमावली, 2015 अस्तित्व में थी। किन्तु सरकार द्वारा इस पर 4 सितंबर 2017 को रोक लगा दी थी। अब पुनः कर्मचारियों द्वारा शिथिलीकरण लागू करने की मांग की गई है।