लवजिहाद के नाम पर हो रही घटनाओं को रोकने के लिए सख्त कानून बने-योगगुरू रामदेव

हरिद्वार। योगगुरु बाबा रामदेव ने हरियाणा के बल्लभगढ़ में छात्रा निकिता की हत्या के आरोपितों को खुलेआम चैराहे पर फांसी दी जानी चाहिए, ताकि यह अन्य के लिए उदाहरण बने। उन्होंने सरकार से लव जिहाद के नाम पर हो रही घटनाओं पर रोक लगाने के लिए सख्त कानून बनाने की मांग की। गुरुवार को हरिपुर कलां में हरिहर कन्हैया कृष्णधाम के लोकार्पण समारोह में पत्रकारों से बातचीत में योगगुरु बाबा रामदेव ने निकिता को बहादुर बेटी बताते हुए घटना पर दुख जताया। उन्होंने कहा कि यह शर्मनाक है कि किसी को महज इसलिए सरेशाम मार डाला गया कि उसने अपना धर्म परिवर्तन करने के मना कर दिया था। उन्होंने कहा कि यह देश के लिए कलंक है, इस दाग को जल्द मिटा देना चाहिए। उन्होंने मुस्लिम मौलानाओं-धर्मगुरुओं और इस्लामिक देशों से अपील करते हुए कहा कि वे इसके खिलाफ आगे आएं और विश्वस्तर कट्टरपंथ के नाम पर सामाजिक व धार्मिक वैमनस्यता फैलाने वालों की खिलाफत करें। उन्होंने कहा कि इस्लाम को दूसरे मजहबों से खतरा नहीं है। उसे सबसे अधिक खतरा इस्लाम के नाम पर पूरे विश्व में चलाए जा रहे इस तरह के कट्टरवाद और आतंकवाद से है। यदि समय रहते नहीं चेते तो आने वाले दिनों में इस्लाम को बदनाम करने वाली इस कारगुजारी से इस्लाम भी खतरे में आ जाएगा।