अखिल भारतीय ब्राह्मण एकता परिषद का वार्ड तक हुआ विस्तार

हरिद्वार। अखिल भारतीय ब्राह्मण एकता परिषद की जिला इकाई ने भीमगोड़ा के एकता भवन मे नगर निगम क्षेत्र के वार्ड नम्बर एक से दस तक संयोजक, अध्यक्ष, महामंत्री के पदाधिकारियों की विधिवत रूप से घोषणा की गई। इस मौके पर जिलाध्यक्ष विपिन शर्मा ने कहा कि जनपद मे किसी भी ब्राह्मण का उत्पीड़न बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। ब्राह्मण समाज को जनपद मे अखिल भारतीय ब्राह्मण एकता परिषद एकता के सूत्र मे बांधने का काम करेगी। गढ़वाल मण्डल संयोजक प्रदीप शर्मा व जिला संयोजक राजीव पाराशर ने सयुंक्त रूप से कहा कि समय रहते ब्राह्मण समाज एकजुट होकर अपने अधिकारों की रक्षा नहीं कर पाया तो आने वाली पीढ़ी हमें माफ नहीं करेगी। समाज को एकता के सूत्र मे बंधकर अपने अधिकारों की रक्षा करनी होंगी। जिला महामंत्री विकास शर्मा ने कार्यक्रम का संचालन करते हुए कहा कि अखिल भारतीय ब्राह्मण एकता परिषद ने ब्राह्मण समाज को जगाने का काम शुरू कर दिया है। अब ब्राह्मण समाज किसी राजनीति दल की या राजनीतिक व्यक्ति की जागीर बनकर अपने अधिकारों व अपने सम्मान की लड़ाई नहीं करनी पड़ेगी। विकास शर्मा ने जिलाध्यक्ष विपिन शर्मा व संयोजक मण्डल के आदेशानुसार वार्ड नम्बर एक से लेकर दस तक के संयोजक, अध्यक्ष, महामंत्री के पदाधिकारियों की  घोषणा की। इस मौके पर प्रयागराज से आए निरंजनी अखाड़े के श्रीमहंत आनंदपुरी महाराज ने कहा कि हमें अपने बच्चों मे सनातन संस्कृति व ब्राह्मण समाज के संस्कार देने होंगे तभी समाज को बचाया जा सकता है। वरना दस बीस वर्ष बाद हमारे समाज का पतन होना निश्चित है। प्रदेश संयोजक बालकृष्ण शास्त्री, प्रदेश अध्यक्ष मनोज गौतम, जिला संरक्षक बृजभूषण विधार्थी ने नवमनोनित पदाधिकारियों को आशीर्वचन व बधाई दी। कार्यक्रम में आनन्द बड़थ्वाल, प्रमोद गिरि, प्रशांत शर्मा, युगल किशोर पाठक, विकास शर्मा, उमाकांत ध्यानी, विवेक शर्मा, कपिल शर्मा जौनसारी, रविंदर उनियाल, हिमांशु शर्मा, शरद चंद शर्मा, प्रमोद घिल्डियाल, रमेश शर्मा, संजय कौशिक, विनोद घड़ियाल, लक्ष्य शर्मा, अरविंद सकलानी, अनिल शर्मा, नरोत्तम प्रसाद, जगदीश चंद पांडे ,शिवांशु शर्मा, आशीष शर्मा, वेद प्रकाश अग्निहोत्री, देवी प्रसाद, सुशील वशिष्ठ, सावित्री प्रसाद, नवीन शर्मा, आकाश शर्मा, शशांक शर्मा, भूषण ध्यानी, मुकुल नारायण झा, ईश्वर तिवारी, रजनीश शमार्, प्रवीण शर्मा, पंकज कुकरेती, विवेक शर्मा, वेदांत उपाध्याय, कुणाल शर्मा, सतीश शर्मा, धीरज, विजय शर्मा, नीरज मंमगाई, दिनेश गिरि, चाँद गिरि आदि सहित बड़ी संख्या में संगठन के पदाधिकारी व सदस्य मौेजूद रहे।