दिसंबर के अंत तक रेलवे के अधिकांश कार्यों को पूरा कर लिया जाएगा-आशुतोष गंगल

उत्तर रेलवे के जीएम ने किया रेलवे के निर्माण कार्यो निरीक्षण       

 

हरिद्वार। उत्तर रेलवे के जीएम आशुतोष गंगल ने कुम्भ मेले की तैयारियों को लेकर रेलवे द्वारा जारी निर्माण कार्यो को परखने के लिए हरिद्वार एवं ज्वालापुर स्टेशन का निरीक्षण किया। जनवरी से शुरू हो रहे कुंभ मेला2021 की तैयारियों को लेकर जारी निरीक्षण में उन्होंने निर्माण कार्यों को लेकर संतोष जताया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने कहा कि दिसंबर के अंत तक सभी रेलवे के काम पूरे हो जाएंगे। जीएम ने लक्सर से हरिद्वार के बीच चल रहे रेलवे दोहरीकरण के कार्यों की भी जानकारी ली। कुंभ से पहले ही सभी कार्य पूरे कर राज्य सरकार के साथ समन्वय बैठक की जाएगी। शुक्रवार को उत्तर रेलवे के जीएम आशुतोष गंगल शुक्रवार को हरिद्वार स्टेशन पहुंचे। यहां पहुचकर उन्होंने कुंभ के दौरान बनने वाले होने वाले कार्यों की जानकारी ली। इस दौरान एसपी जीआरपी मंजूनाथ टीसी ने कुंभ के दौरान आने वाली भीड़ से निजात के लिए मेला पुलिस की प्लानिंग की बारे में जानकारियां दी। इससे पहले उन्होंने ज्वालापुर स्टेशन का निरीक्षण कर नए प्लेटफार्म और अंडर ब्रिज के अलावा यात्री शेड के कार्यों का निरीक्षण किया। बाद में हरिद्वार स्टेशन पर मीडिया से बातचीत करते हुए जीएम ने कहा कि दिसंबर के अंत तक रेलवे के अधिकांश कार्यों को पूरा कर लिया जाएगा। रेलवे दोहरीकरण का कार्य भी जल्द ही पूरा होने वाला है। कहा कि जनवरी से पहले ही व्यवस्थाओं को चाक चैबंद कर लिया जाएगा। जीएम ने कहा कि अभी कोविड-19 को देखते हुए यह तय नहीं किया गया है कि कुंभ मेले में कितनी ट्रेनें स्पेशल चलेंगी। लेकिन एक बात तो उन्होंने साफ कर दी है कि स्पेशल ट्रेनों का संचालन किया जाना है, लेकिन यह ट्रेनें कब से कब तक चलेंगी इस बात की उनके पास कोई जानकारी नहीं है। जीएम ने कहा कि अभी बैठक कर तय किया जाएगा कि कितने ट्रेनें चलाई जाएंगी। वहीं ट्रेनों के स्टॉपेज को लेकर भी अभी कोई खास जानकारी उनके पास नहीं है। अंडर ब्रिज का काम भी पूरा हो जाएगा। निर्माण कार्यों को लेकर उन्होंने संतोष जताया। निरीक्षण में डीआरएम तरुण प्रकाश, एसपी जीआरपी मंजूनाथ टीसी, वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक रेखा शर्मा, एडीआरएम एनएन सिंह, एएसपी जीआरपी मनोज कत्याल, स्टेशन अधीक्षक एमके सिंह सीएमआई वी एस रावत समेत अन्य अधिकारी मौजूद रहे।