स्नान पर्व रदद् किये जाने से नाराज कांग्रेसियों का सरकार की बुद्वि-शुद्वि यज्ञ

 हरिद्वार। कार्तिक पूर्णिमा स्नान पर्व रद्द किए जाने के सरकार के फैसले पर रोष व्यक्त करते हुए कांग्रेस सेवादल कार्यकर्ताओ ने प्रदेश व केंद्र सरकार की बुद्धि शुद्धि के लिए गंगा किनारे हवन किया। शहर कांग्रेस सेवादल अध्यक्ष नितिन यादव ने कहा उत्तराखंड की बीजेपी सरकार कोरोना महामारी के नाम पर हिन्दुओं की आस्था से खिलवाड़ करने का काम कर रही है। पहले सरकार ने कांवड़ मेला रद्द किया। इसके बाद सोमवती अमावस्या स्नान और अब कार्तिक पूर्णिमा का स्नान को रद्द कर दिया गया। राजनीतिक आयोजनों में कोरोना के खतरे को नजरअंदाज कर चुनावो के दौरान बड़ी बड़ी रैली, जनसभाएं व रोड शो हो रहे है। लेकिन धार्मिक आयोजन, त्यौहार व गंगा स्नान आदि पर कोरोना फैलने का अंदेशा जाहिर कर रोक लगायी जा रही है। सरकार की इस दोहरी नीति को मंजूर नहीं किया जाएगा। युवा कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता तुषार कपिल व शहर कांग्रेस सेवादल उपाध्यक्ष तरुण सैनी ने कहा उत्तराखंड सरकार बार बार ऐसे फैसले ले रही है, जिनसे धार्मिक भावनायें आहात हो रही हैं। हरिद्वार में रोजगार वेसे ही चोपट है। ऐसे में स्नान रद्द करके सरकार व्यापारियो का शोषण कर रही है। कपिल जौनसारी व शुभम जोशी ने कहा कि यदि सरकार इस प्रकार के जनविरोधी व धार्मिक भावनाओं को आहत करने वाले फैसले लेना बंद नहीं करती है तो आंदोलन किया जाएगा।