शासनादेेश रद्द होने पर तीर्थ पुरोहितों ने किया गंगाजी का दुग्धाभिषेक

 हरिद्वार। स्केप चैनल अध्यादेश रद्द किए जाने के सरकार के निर्णय पर खुशी व्यक्त करते हुए तीर्थ पुरोहितों ने हरकी पैड़ी गंगा में दुग्धाभिषेक व आतिशबाजी की। स्केप चैनल अध्यादेश को रद्द किए जाने की मांग को लेकर तीर्थ पुरोहित दो महीने से अधिक समय से हरकी पैड़ी पर धरना व अनशन कर रहे हैं। स्केप चैनल शासनादेश रद्द किए जाने की सूचना मिलते ही तीर्थ पुरोहितों में खुशी की लहर दौड़ गयी। शासनादेश रद्द किए जाने को तीर्थ पुरोहित समाज के आंदोलन की जीत बताते हुए पुरोहितों ने गंगा में दुग्धाभिषेक व आतिशबाजी कर प्रसन्ता व्यक्त की। पुरोहित उमाशंकर वशिष्ठ ने कहा कि हर्ष का विषय है कि सरकार ने स्केप चैनल शासनादेश रद्द कर दिया है। इससे मां गंगा का खोया हुआ सम्मान वापस आया है। श्रद्धालुओं की आस्था की जीत हुई है। उन्होंने कहा कि शासनादेश की काॅपी मिलने माँ गंगा का विधी विधान से पूजन किया जाएगा। इस दौेरान सौरभ सिखौला, रामकुमार सलेमपुरीये, अतुल कुएपेवाले, सेवा राम मिश्रा, अनमोल कौशिक, अनिल कौशिक, प्रदीप निगारे, प्रवीण शर्मा, आकाश वशिष्ठ, पवन पचभैय्या, आदित्य वशिष्ठ, सुनील चाकलान, श्याम सुंदर शर्मा, साकेश्वर वशिष्ठ, सिद्धार्थ त्रिपाठी, देव पचभैय्या, आकाश वशिष्ठ, सचिन कौशिक, कन्हैया सिखौला आदि पुरोहित मौजूद रहे।