दिव्यांगो के लिए आगे आया भेल प्रबंधंन

हरिद्वार। काॅरपोरेट सामाजिक दायित्व (सीएसआर) योजना के अन्तर्गत बीएचईएल ने कानपुर स्थित आर्टीफीशियल लिम्ब्स मैन्यूफैक्चरिंग कार्पोरेशन (एएलआईएमसीओ) के साथ एक एमओयू पर हस्ताक्षर किए हैं। इसके अंतर्गत बीएचईएल द्वारा हरिद्वार सहित देश के चार चुने हुए जिलों के दिव्यांगजनों को कृत्रिम अंग, श्रवण यंत्र तथा व्हील चेयर आदि के वितरण हेतु वित्तीय मदद प्रदान की जाएगी। इस उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रम में बीएचईएल हरिद्वार के महाप्रबन्धक (मानव संसाधन) आर.आर.शर्मा तथा एएलआईएमसीओ के उप महाप्रबन्ध्क अजय चैधरी ने समझौता पत्र पर हस्तायक्षर किये। इस अवसर पर अपने सम्बोधन में आर.आर. शर्मा ने बीएचईएल द्वारा चलायी जा रही विभिन्न सामाजिक योजनाओंपर प्रकाश डालते हुए कहा कि बीएचईएल शुरू से ही समाज के प्रति अपने कर्तव्यों का निर्वहन कर रहा है और भविष्यए में भी करता रहेगा। अजय चैधरी ने भी बीएचईएल के इस प्रयास की सराहना करते हुए अपना आभार व्यक्त किया। इससे पहले सीएसआर विभाग के संयोजक जे.बी.सिंह ने सभी अतिथियों का स्वागत किया तथा इस योजना से जुड़ी जानकारियां साझा की। उल्लेखनीय है कि इस प्रोजेक्ट के अंतर्गत हरिद्वार सहित देश के चार जिलों, दमोह (मध्य प्रदेश), खम्मम (तेलंगाना) तथा खगड़िया (बिहार) को शामिल किया गया है। करीब एक करोड़ रूपए की लागत वाली इस परियोजना को अगले वर्ष अक्टूबर तक पूरा किया जाना है। इस अवसर पर बीएचईएल तथा एएलआईएमसीओ के अनेक वरिष्ठ अधिकारी तथा सीएसआर विभाग के सदस्य उपस्थित रहे।