पूर्व की भांति कोरोना के नियम शर्तों के साथ ट्रेनों का संचालन शुरू किए जाने की मांग

हरिद्वार,। ऑल इंडिया उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल ने तीर्थनगरी में व्यापारियों को राहत देने के लिए ट्रेनों का संचालन शुरू किए जाने की मांग की गई। ऑल इंडिया उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल के प्रदेश अध्यक्ष संजय चोपड़ा की अध्यक्षता में पुरानी सब्जी मंडी स्थित कंधारी धर्मशाला कार्यालय पर व्यापारी संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक आहूत की गई। बैठक के माध्यम से केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल को ईमेल के माध्यम से पत्र भेजकर अन्य राज्यों की तर्ज पर उत्तराखंड हरिद्वार, देहरादून, उधम सिंह नगर, रूद्रपुर, हल्द्वानी, कोटद्वार, टनकपुर इत्यादि क्षेत्रों में पूर्व की भांति कोरोना के नियम शर्तों के साथ ट्रेनों का संचालन शुरू किए जाने की मांग की गयी। बैठक को संबोधित करते हुए संजय चोपड़ा ने कहा उत्तराखंड राज्य में कोरोना के बचाव के संसाधनों व नियम शर्तों के साथ रेल यात्रा का पूर्ण रूप से संचालन किया जाना न्याय संगत होगा। उन्होंने कहा कि अन्य राज्यों में रेल यात्रा पूर्ण रूप से संचालित की जा रही है। लेकिन उत्तराखंड में चुनिंदा रेलगाड़ियों का संचालन किया जा रहा है जो कि उत्तराखंड राज्य के साथ अन्याय जैसा प्रतीत होता है। उन्होंने उत्तराखंड के समस्त व्यापारी संगठनों की और से मांग है कि हरिद्वार के सांसद केंद्रीय शिक्षा मंत्री डा.रमेश पोखरियाल निशंक, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के संयुक्त प्रयास से भारत सरकार द्वारा उत्तराखंड की समस्त रेल यात्राओं को संचालित किए जाने की अनुमति दिया जाना उत्तराखंड की जनता के साथ न्यायपूर्ण रवैया होगा। इस अवसर पर मोती बाजार व्यापार मंडल के कोषाध्यक्ष राजेश खुराना, संजय बंसल, राधेश्याम रतूड़ी ने संयुक्त रूप से कहा कि कोरोना वैश्विक महामारी की वजह से उत्तराखंड के व्यापारियों ने अपने कारोबार को पूर्ण रूप से खोया है। बैठक में व्यापारी संगठनों के प्रतिनिधियों में आलोक कुमार मिश्रा, सुंदरलाल जायसवाल, संजय भारद्वाज, अनु गुप्ता, हंसराज दुआ, दिनेश कोठियाल, राजेश अरोड़ा, श्रवण कुमार पप्पी, कुंवर सिंह मण्डवाल, शैलेन्द्र गोयल, रवि अरोड़ा, अवधेश राणा आदि प्रमुख रूप से शामिल रहे।