जनता की समस्याओं,शिकायतों को सुनें,उनका त्वरित निस्तारण करे-डाॅ0 नीरज खैरवाल


 हरिद्वार। उत्तराखण्ड पाॅवर कारपोरेशन के प्रबन्ध निदेशक डाॅ0 नीरज खैरवाल ने मेला नियंत्रण भवन(सी0सी0आर0) में विद्युत विभाग की समीक्षा बैठक में कहा कि हरिद्वार जनपद में विद्युत वितरण में सबसे ज्यादा लाॅसेज हैं। उन्होंने कहा कि अगर कई जनपदों के वितरण लाॅसेज को जोड़कर उसका हम योग करें, तो हरिद्वार जनपद का वितरण लाॅसेज उससे भी अधिक है। यह स्थिति ठीक नहीं है, इसमें हमें सक्रिय प्रयासों से सुधार लाना होगा। उन्होंने विद्युत विभाग के अधिकारियों से कहा कि आप वितरण लाॅसेज कम करने के लिये जिलाधिकारी, एस0एस0पी0, प्रशासन आदि की मदद ले सकते हैं। जिन क्षेत्रों में वितरण लाॅसेज ज्यादा हैं, वहां प्रचार-प्रसार करके जागरूकता लाई जाये। उन्होंने सख्त रूख दिखाते हुये कहा कि आगे आने वाले समय में ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जायेगी। डाॅ0 नीरज खैरवाल ने तहसील दिवस का उल्लेख करते हुये विद्युत विभाग के अधिकारियों से कहा कि तहसील दिवस आपके लिये एक अवसर है, उसमें शामिल होइये, आपकी कोई समस्या है, तो उसे बताइये। कई समस्या आपकी अपने आप ही सुलझ जायेंगी। उन्होंने विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि जिलाधिकारी जनता दरबार में कोई न कोई अधिकारी जरूर शामिल होना चाहिये। प्रबन्ध निदेशक ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे जनता की समस्याओं अथवा शिकायतों को सुनें,उनका त्वरित गति से निस्तारण करें। बैठक में रूड़की अर्बन, हरिद्वार अर्बन एवं ग्रामीण, भगवानपुर, रामनगर, लक्सर, बहादराबाद, ज्वालापुर डिवीजनों में हो रही वितरण लाॅसेज के सम्बन्ध में विस्तृत चर्चा हुई। प्रबन्ध निदेशक ने विद्युत विभाग के अधिकारियों से पूछा कि इण्डस्ट्रियल व कामर्शियल लाॅसेज इतना ज्यादा क्यों है। उन्होंने अधिकारियों को हिदायत दी कि यह एक प्रतिशत से ज्यादा नहीं होना चाहिये। उन्होंने कहा कि मीटर भी वेलप्रूफ होने चाहिये। मीटर जितनी जगह लगने हैं, वे लगाइये। बिजली की एक रूपये की भी चोरी नहीं होनी चाहिये। उन्होंने कहा कि विद्युत चोरी बहुल क्षेत्रों में सी0सी0 टी0वी0 कैमरे स्थापित करिये,जिसकी माॅनिटरिंग मोबाइल के माध्यम से करिये। उन्होंने कहा कि सिस्टम काम करेगा, तो कोई भी चोरी करने की हिम्मत नहीं करेगा। समीक्षा के दौरान डाॅ0 नीरज खैरवाल को सिडकूल के अधिकारियों ने बताया कि सिडकूल का लाॅस एक प्रतिशत है, जिस पर प्रबन्ध निदेशक ने सिडकूल के अधिकारियों की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि जो सही काम करेगा, हमारा उसको पूर्ण सहयोग मिलेगा। बैठक में अनिस्तारित आर0सी0 के सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने कहा कि इस सम्बन्ध में एक अलग से बैठक आयोजित की जायेगी। विद्युत विभाग के अधिकारियों ने पुलिस का अपेक्षित सहयोग न मिलने की बात कही तो पुलिस अधिकारियों ने बताया कि विद्युत विभाग के अधिकारी अगर कोई मामला होता है, तो उसे स्थानीय पुलिस को नहीं बताते हैं, जिससे दिक्कत आती है। इस पर जिलाधिकारी ने कहा कि ऐसे मामलों में पुलिस को पूर्व में ही सूचित करें दें ताकि आप लोगों को दिक्कत न आये। बैठक में अपर जिलाधिकारी के0के0 मिश्रा, विद्युत विभाग, पुलिस विभाग, विजिलेंस विभाग के अधिकारियों सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारीगण उपस्थित थे।


Comments