कोविड19 को लेकर जनपद की स्थिति काफी संतोषजनक-सी रविशंकर

हरिद्वार। जिलाधिकारी सी0 रविशंकर ने कहा है कि जनपद में कोविड19 के टेंस्टिंग काफी संख्या में हो रही है और पाॅजिटिव रेट में भी सुधार भी आया है। कुम्भ को देखते हुए दो हजार अतिरिक्त बेड की व्यवस्था की जा रही है। जिलाधिकारी सी रविशंकर शनिवार को मेला नियंत्रण भवन के सभागार में कोविड-19 के सम्बन्ध में पत्रकारों से वार्ता कर रहे थे। उन्होने कहा कि कोविड-19 की टेस्टिंग पर्याप्त मात्रा में हो रही है तथा जनपद के पाॅजिटिव रेट में काफी सुधार आया है। उन्होंने कहा कि हरिद्वार की स्थिति सन्तोषजनक है। आगामी कुम्भ को देखते हुये 4000 बेड के अलावा अतिरिक्त 2000 बेड और बढ़ाने की व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 वायरस संक्रमण का एक नया वेरियेंट सामने आया है, जिसकी अभी हम माॅनिटरिंग कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि भारत सरकार द्वारा जारी कोविड-19 गाइड लाइन जैसे- सुरक्षा हेतु मास्क पहनना, सेनेटाइजेशन एवं सामाजिक दूरी का अनुपालन बहुत आवश्यक है। अगर पालन नहीं किया जाता है, तो कार्रवाई की जायेगी। जिलाधिकारी ने वैक्सीन के सम्बन्ध में पूछे गये एक प्रश्न के उत्तर में बताया कि वैक्सीन का डाॅटावेस तैयार कर लिया गया है। वैक्सीनेशन के लिये कितने स्थान की आवश्यकता होगी, वह तय कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि ब्लाॅक स्तर तक टास्क फोर्स तैयार किया गया है, कोल्ड चेन का चिह्नीकरण किया गया है। जनपद में 24 स्टोरेज प्वाइण्ट हैं तथा आवश्यकता पड़ने पर उन्हें और बढ़ाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि हम पहले पूरी तैयार कर रहे हैं, वैक्सीन जितनी मात्रा में प्राप्त होगी, उसी अनुसार वरीयता तय की जायेगी। पत्रकारों द्वारा गंगा स्नान के लिये आने वाले यात्रियों द्वारा सोशल डिस्टिेंसिंग आदि के नियमों का पालन सही ढंग से न किये जाने के बारे में पूछे जाने पर जिलाधिकारी ने बताया कि यह एक चुनौती है। उन्होंने कहा कि पिछले सोमवती अमावस्या को हमने सामान्य दिनों की अपेक्षा पांच गुना अधिक पुलिस बल तैनात किया था। उन्होंने कहा कि हम संसाधनों के अनुसार व्यवस्था कर रहे हैं। कोविड-19 की परिस्थितियों में नये साल का उत्सव मनाने के सम्बन्ध में पूछने पर जिलाधिकारी ने बताया कि कोविड-19 की गाइड लाइन का पालन करना होगा, अन्यथा की स्थिति में कार्रवाई की जायेगी। हाईवे का काम कब तक पूरा हो जायेगा, के सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने बताया कि जल्दी ही पूरा होने की संभावना है।