फर्जी इस्पेक्टर बनकर 20हजार की डिमांड करने वाले आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्रतार

 हरिद्वार। कोतवाली ज्वालापुर पुलिस ने फर्जी इंस्पेक्टर बनकर 20 हजार रुपये की डिमांड करने के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के अनुसार आरोपी ने फर्जी फेसबुक आइडी बनाकर 70 साल के बुजुर्ग को जाल में फंसाया था और उसे अश्लील मैसेज किये थे। पुलिस ने आरोपी को जेल भेज दिया है। पुलिस के मुताबिक बीते बुधवार को ज्वालापुर कोतवाली प्रभारी प्रवीण सिंह कोश्यारी के सरकारी मोबाइल नंबर पर कलकत्ता निवासी 70 साल के बुजुर्ग ने शिकायत कर बताया कि 19 दिसंबर को वह इंदौर से हरिद्वार आये थे। इस बीच एक युवती की फ्रेंड रिक्वेस्ट उनके फेसबुक अकाउंट पर आई। दोनों के बीच हल्की बातचीत शुरू हो गई। युवती ने उन्हें अपने जाल में फंसा लिया और अश्लील बातचीत शुरू कर दी। आरोप है कि कुछ बातें युवती ने रिकॉर्ड कर ली। कुछ ही देर में बुजुर्ग के मोबाइल पर फोन आना शुरू हो गया। आरोप है कि कॉलर ने अपने आप को हरिद्वार पुलिस का इंस्पेक्टर बताकर बुजुर्ग को धमकाना शुरू कर दिया। आरोप लगाया कि कोतवाली में रिपोर्ट कर देने के नाम से 20 हजार रुपये की मांग शुरू कर दी। जब रुपयों की मांग हुई तो बुजुर्ग को संदेह हुआ और बीते बुधवार को बुजुर्ग ने ऑनलाइन अपनी शिकायत की। पुलिस ने बुजुर्ग से मोबाइल नंबर ले लिया, जिससे फोन आ रहे थे। जांच शुरू की गई। मोबाइल नंबर के आधार पर पुलिस आरोपी क्षत्रपाल सिंह पुत्र राम सिंह निवासी ब्रह्मपुरी खजूरी थाना जिला बिजनौर उत्तर प्रदेश हाल रावली महदूद थाना सिडकुल तक पहुंच गई। आरोपी सिडकुल की कंपनी में काम करता है। गुरुवार सुबह पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। कोतवाली प्रभारी प्रवीण सिंह कोश्यारी ने बताया कि आरोपी को जेल भेज दिया गया है। आरोपी के पास से मोबाइल फोन बरामद किया है।