पेयजल आपूर्ति में समस्या को लेकर किया जलसंस्थान के खिलाफ प्रदर्शन

 हरिद्वार। खड़खड़ी क्षेत्र में दो दिनों से पेयजल आपूर्ति में हो रही दिक्कतों के विरोध में व्यापारियों ने क्षेत्रवासियों के साथ जल संस्थान के खिलाफ प्रदर्शन किया। बुधवार को महानगर जिलाध्यक्ष सुनील सेठी के नेतृत्व में लोगों ने कहा कि दो दिन से नलों में पानी की एक बूंद तक नहीं आई है। इस कारण घर के अधिकांश कामकाज प्रभावित हो गए हैं। जिलाध्यक्ष सुनील सेठी ने जिलाधिकारी से अमृत योजना और जल संस्थान के अधिकारियों पर कार्रवाई की मांग की है। साथ ही नई लाइन को छोटी लाइन् से जोड़ने की जांच की भी मांग की है। सेठी ने कहा कि खड़खड़ी क्षेत्र के कई इलाकों में 24 घंटे से ज्यादा बीत जाने के बाद भी पानी नहीं आया है। खड़खड़ी से सूखी नदी के बीच बसन्त गली, कुंज गली, कृष्णा गली और समूचे खड़खड़ी में रोजाना पानी की सप्लाई बाधित की जा रही है। अनियोजित रूप से हो रहे कार्य से जनता को परेशानी हो रही है। व्यापारियों के साथ ही घरेलू कामकाज निपटाने में लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। जल संस्थान की लापरवाही का खामियाजा जनता झेल रही है। अगर पानी आ भी गया तो वह प्रदूषित होता है। खड़खडेश्वर व्यापार मंडल अध्यक्ष राजेश सुखीजा एवं स्थानीय निवासी धर्मपाल प्रजापति ने कहा कि रोजाना समस्या बढ़ती जा रही है। अमृत योजना कार्यदायी संस्था रोजाना खुदाई कर आपूर्ति बाधित कर देती है। रात में कार्य निपटाने की जगह नलकूप बंद करके छोड़ दिये जा रहे है। योजना को लेकर कोई मॉनीटरिंग नहीं की जा रही है। विरोध जताने वालों में सुभाष ठक्कर, प्रीतम सिंह, गणेश शर्मा, राजेश, रविन्द्र चैहान, विनोद कुमार आदि शामिल रहे।