पीड़िता को न्याय दिलाने के लिए मुस्लिम युवाओं ने निकाला कैंडल मार्च

 हरिद्वार। ऋषिकुल की पीड़िता को न्याय दिलाने के लिए ज्वालापुर के मुस्लिम समाज के युवाओं ने पार्षद सुहेल अख्तर के नेतृत्व में पुल जटवाड़ा से रेली चैकी तक कैंडल मार्च निकाला। इस दौरान पीड़िता को श्रद्धांजलि देने के साथ फरार अपराधी की तत्काल गिरफ्तारी की मांग भी की गयी। पार्षद सुहेल अख्तर ने कहा कि बालिकाएं सुरक्षित नहीं है। ऋषिकुल की घटना हृदयविदारक है। ऐसी घटना को अंजाम देने वालों को बख्शा नहीं जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि आरोपियों के खिलाफ फास्ट ट्रैक कोर्ट में मुकद्मा चलाकर जल्द से जल्द फांसी पर लटकाया जाए। सुहेल अख्तर ने कहा कि पूरे समाज को झकझोर देने वाली इस घटना को लेकर संवेदनशीलता दिखाते हुए पीड़ित परिवार को जल्द से जल्द न्याय दिलाए। उन्होंने कहा कि बालिकाओं को सुरक्षा प्रदान करने के लिए पुलिस को रणनीति के तहत काम करना चाहिए। फरार आरोपी भीड़ का लाभ पुलिस के सामने ही गायब हो गया। उसे जल्द से जल्द तलाश कर सलाखों के पीछे डाला जाए। डा.मेहरबान अली व दिलशाद मंसूरी ने कहा कि ऐसी घटनाएं दोबारा ना हों। इसके लिए सरकार कड़े कदम उठाए। पार्षद इसरार अहमद, हाजी शहाबुद्दीन ने कहा कि सर्वसमाज बालिका के हत्यारों को फांसी देने की मांग कर रहा है। मुस्लिम समाज के द्वारा यह मांग की जाती है कि आरोपी को चैराहे पर सरेआम फांसी दी जाए। कैडल मार्च निकालने वालों में तासीन अंसारी, इसरार सलमानी, जुबेर आलम, हाजी शेरू, सद्दीक गाड़ा, नफीस कुरैशी, भूरा अंसारी, गुलबहार कुरैशी, हारून अंसारी, पप्पू मंसूरी, परवेज आलम, आमिर, आशीष वाल्मिीकि, सपा नेता चंद्रशेखर यादव आदि सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।