तीर्थनगरी बनी मादक पर्दाथों के व्यापार का गढ़-सतपाल ब्रह्मचारी

 हरिद्वार। हरिद्वार में फल फूल रहे शराब व मादक पदार्थों के अवैध धंधे के खिलाफ और बिगड़ती कानून व्यवस्था के विरोध में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कनखल चैक बाजार में पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष सतपाल ब्रह्मचारी के नेतृत्व में सांकेतिक उपवास किया। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने नशा कारोबारियों को राजनीतिक संरक्षण का आरोप लगाया। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार कनखल चैक बाजार में वयोवृद्ध गांधीवादी नेता चैधरी बलजीत सिंह की अध्यक्षता एवं पूर्व प्रदेश प्रवक्ता मनीष कर्णवाल के संचालन में आयोजित विरोध प्रदर्शन कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सतपाल ब्रह्मचारी ने कहा कि हरिद्वार राजनीतिक संरक्षण में चल रहे नशे के अवैध कारोबार का गढ़ बन गया है। युवा चरस, गांजा च शराब के नशे से बर्बाद हो रहे हैं। उन्होंने कहा यदि पुलिस प्रशासन ने शहर में चल रहे अवैध नशे के कारोबार पर नकेल नहीं कसी तो सड़कों पर उतरकर आंदोलन किया जाएगा। पूर्व विधायक अमरीश कुमार ने कहा हरिद्वर में अराजकता का वातावरण व्याप्त है। अपराधी खुलेआम घूम रहे हैं। पुलिस मूकदर्शक की भांति चुप बैठी है। उन्होंने कहा कि यदि पुलिस में अपनी कार्यशैली में सुधार नहीं किया तो कांग्रेस कार्यकर्ता जन आंदोलन को बाध्य होंगे। वरिष्ठ नेत्री डा.संतोष चैहान ने कहा कि हरिद्वार में अपराध अपराधों का ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि मासूम के साथ रेप व हत्या करने आरोपियों को गिरफ्तार करने की बजाय पुलिस गांधीवादी तरीके से आंदोलन कर रहे युवाओ,ं नागरिकों के ऊपर मुकदमा दर्ज कर रही है। इस दौरान तरुण व्यास, महेंद्र अरोड़ा, उपेंद्र कुमार, महिला नेत्री अंजू द्विवेदी, वीना कपूर सुमन, अग्रवाल, अमन गर्ग, राजीव भार्गव, कैलाश भट्ट, अनुज ठेकेदार, महावीर वशिष्ठ, राजेश शर्मा, हरीश शेरी, प्रदीप पंत, सुंदर सिंह मनवाल, चैधरी संसार सिंह, दिनेश वालिया, रविदत्त पप्पी, महेंद्र अरोड़ा, हरद्वारी लाल, विजय गुप्ता, श्रीकृष्ण लोधी, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष शुभम अग्रवाल, दीपक पांडे, पंडित अधीर कौशिक, गोपाल कृष्ण बडोला, गजेंद्र जोशी, प्रशांत शर्मा, सानू गिरी, आशीष जैन, ऋषभ कांत गिरी, आकाश भाटी, नितिन यादव, रवि बाबू शर्मा, नवीन रघुवंशी, महेश भट्ट, विपिन पेवल, नकुल महेश्वरी, अनिल चैधरी, हिमांशु बहुगुणा, सरदार रमणीक सिंह, सुनील अरोड़ा, बृजमोहन बर्दवान, नीरव साहू, सरदार करण सिंह, वेदांत उपाध्याय, शरद शर्मा, याज्ञिक वर्मा समेत बड़ी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद रहे।