श्री पंचायती अखाड़ा बड़ा उदासीन की ओर से जरूरतमंदों को कंबल वितरित

हरिद्वार। श्री पंचायती बड़ा उदासीन की शाहपुर शाखा में जरूरतमंदों को कंबल वितरित किए गए। कंबल वितरण समारोह को संबोधित करते हुए अखाड़े के श्रीमहंत महेश्वरदास महाराज ने कहा कि आपदा या अन्य दूसरे अवसरों पर संत समाज ने हमेशा आगे बढ़कर जरूरतमंदों की सेवा में योगदान किया है। ईश्वर ने जिन्हे सबल बनाया है। उन सभी को निसहाय व निर्बलों की मद के लिए हमेशा तत्पर रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि सर्दी का मौसम प्रारम्भ हो चुका है। उन्होंने कहा कि निस्वार्थ सेवा भाव से की गयी सेवा अवश्य ही फलदायी सिद्ध होती है। जरूरतमंदों की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए संकल्प लेकर कार्य करने की आवश्यकता है। मुखिया महंत दुर्गादास महाराज ने कहा कि सेवा प्रकल्पों के माध्यम से संत समाज सदैव ही अग्रणी भूमिका निभाता चला आ रहा है। सर्दी से बचाव के लिए ग्रामीणों को कंबल वितरित किए गए हैं। शाहपुर शाखा के कोठारी महंत जयेंद्र मुनि व महंत निर्मलदास महाराज ने कहा कि मानव सेवा सबसे बड़ा कर्म है। मनुष्य को फल की आस किए बगैर हमेशा जरूरतमंदों की आवश्यकताओं को पूरा करने में अपना योगदान देना चाहिए। ठण्ड बढ़ रही है। निम्न स्तर का जीवन यापन कर रहे जरूरतमंदों की सेवा अवश्य करनी चाहिए। ग्रामीण विधायक स्वामी यतीश्वरानन्द व लकसर विधायक संजय गुप्ता ने कहा कि संत महापुरूषों के सहयोग से जरूरतमंदों की सेवा के प्रकल्प वर्ष भर धर्मनगरी में जारी रहते हैं। कंबल वितरण कार्यक्रम अवश्य ही जरूरतमंदों की आवश्यकताओं को पूरा करने जैसा है। उन्होंने कहा कि निर्धन परिवारों की मदद अवश्य करनी चाहिए। कार्यक्रम का संचालन म.म.स्वामी हरिचेतनानन्द महाराज ने किया। इस अवसर पर महंत कमलदास महाराज, महंत दामोदरशरण दास, कोठारी महंत दामोदर दास, महंत निरंजन दास, महंत दर्शनदास, महंत बलवंत मुनि, एसपी देहात स्वप्न किशोर आदि के अलावा कई स्थानीय गणमान्य लोग मौजूद रहे। इस दौरान संतों ने मासूम की बालिका के साथ दुष्कर्म कर हत्या करने वाले अपराधियों को फांसी की सजा दिए जाने की मांग भी की।